दैनिक भास्कर हिंदी:  नागपुर में गौरा-गौरी की शोभायात्रा की धूम, जगह-जगह हुआ स्वागत

October 30th, 2019

डिजिटल डेस्क, नागपुर|  दिवाली के दूसरे दिन नागपुर शहर में गौरा-गौरी शोभायात्रा की धूम रही। शोभायात्रा का स्वागत करने लोगों ने जबर्दस्त उत्साह दिखाई दिया। गुरुदेव राम मंदिर परिसर डिप्टी सिग्नल में गौरा-गौरी शोभायात्रा निकाली गई। जयभोले गौरा-गौरी उत्सव समिति की ओर से आयोजित शोभायात्रा का शुभारंभ राकांपा पक्ष नेता व पार्षद दुनेश्वर पेठे के हाथों पूजा-अर्चना से हुई। सामाजिक कार्यकर्ता राधेश्याम उर्फ मुन्ना वर्मा, शरद साहू, रमेश मोटघरे, आकाश थेटे उपस्थित थे। शोभायात्रा गुरुदेव राम मंदिर परिसर से निकलकर विसर्जन स्थल मंडई मैदान पहुंची। महिलाओं  द्वारा गौरा- गीत एक पतरी..रैनी बैनी रायरतन पुर गीत गाया गया। कार्यक्रम के आयोजक उमेंदी हिरवानी, सहल कौसले, हीरामन साहू, बेनुराम गायग्वाल, प्यारेलाल िनर्मलकर, राकेश हिरवानी, मनोज वर्मा, रति हिरवानी, कालेश्वर गायग्वाल, छोटू ग्वालबंसी, पूरनम साहू, दुखुराम वर्मा, दिलीप वर्मा, प्रेम साबरसाठी, दशरथ बनपेला थे।

सार्वजनिक हनुमान मंदिर पंचकमेटी
सार्वजनिक हनुमान मंदिर पंचकमेटी, बजरंग चौक, सिंगल डिप्टी में गौरा-गौरी उत्सव धूमधाम से मनाया गया।  कार्यक्रम को सफल बनाने लव वर्मा, परस मरई, शेरू मरई, गुनी मरई, श्यामू ठाकुर, प्रीतम ठाकुर, गंगाबाई साहू, जानकीबाई साहू, आजुराम साहू, मनोज वर्मा, नारायण वर्मा, राजू मानकर, सेवक गंगबोइर, मुकेश गंगबोइर आदि परिसर के समस्त लोगों ने प्रयास किया । यह जानकारी दिनेश गंगबोइर ने दी।

सीताबर्डी में शोभायात्रा  
गौरा-गौरी उत्सव सांस्कृतिक मंडल की ओर से मंगलवार, 29 अक्टूबर को शोभायात्रा गौरा-गौरी पूजा स्थल टेम्पल बाजार, सीताबर्डी से िनकाली जाएगी। मंडल के अध्यक्ष बाबूलाल साहू, उपाध्यक्ष राजेश जांगडे, कैलास व्यास ने बताया कि सुबह 6 बजे मूर्ति स्थापना गौरा-गौरी पूजा स्थल पर होगी। पूजा-अर्चना िवसर्जन की जाएगी। 10 बजे सांस्कृतिक कार्यक्रम "घुंगरू की झंकार' में सजीव झांकी नाट्य प्रदर्शन किया जाएगा। महाप्रसाद और सत्कार कार्यक्रम के बाद दोपहर 3.30 बजे शोभायात्रा कार्यक्रम स्थल से निकल कर बुटी रोड, सीताबर्डी मेन रोड, लोहापुल होते हुए गांधीसागर पहुंचेगी। बाद में विसर्जन किया जाएगा। पुनीतराम गुरुपंच, बोधन साहू, शत्रुघ्न यादव, नारायण सोनसार्वे, बिसेस साहू ने उपस्थिति की अपील श्रद्धालुओं से की है।