comScore

आईडी देकर खिला रहे थे आईपीएल का सट्टा - पकड़े गए सटोरियों की लिंक तलाश रही गोरखपुर पुलिस

आईडी देकर खिला रहे थे आईपीएल का सट्टा - पकड़े गए सटोरियों की लिंक तलाश रही गोरखपुर पुलिस

डिजिटल डेस्क जबलपुर । आईपीएल टी-20 क्रिकेट मैच में रविवार को खेले गये दो मैचों में लाखों का दाँव लगाया गया था। मैच के दौरान तीन थाना क्षेत्रों में क्रिकेट का लाखों का सट्टा पकड़ा गया था। देर रात गोरखपुर में पकड़े सटोरियों से पूछताछ में पता चला कि उनके द्वारा आईडी देकर मोबाइल पर सट्टे की खाईबाजी की जा रही थी। पुलिस ने कार सवार दो सटोरियों से 4 मोबाइल व 51 सौ रुपये नकदी जब्त किया था। पकड़े गए सटोरियों से पूछताछ कर पुलिस उनकी लिंक जोड़कर बड़े बुकी का पता लगाने में जुटी है। पुलिस के अनुसार रविवार की रात हैदराबाद व दिल्ली के बीच खेले जा रहे मुकाबले में  हवाबाग कॉलेज के पास कार सवारोंं द्वारा क्रिकेट का सट्टा खिलाए जाने की सूचना पर छापामारी की गई और कार सवार हरीश उर्फ विक्की मनानी निवासी गुडविल अपार्टमेंट व उसके साथी रोमी चेलानी निवासी कुबेर रेसीडेंसी को पकड़ा जो कि मोबाइल से सट्टे की खाईबाजी कर रहे थे। उनके द्वारा ग्राहकों को आईडी देकर मैसेज के जरिए सट्टा खिलाया जा रहा था। पुलिस ने उनके कब्जे से 4 मोबाइल, नकदी रकम व कार जब्त की थी। पुलिस के अनुसार सटोरियों के पास मिले मोबाइल फोन की जाँच कर यह पता लगाया जा रहा है कि उन्होंने किससे लाइन ली थी और शहर में कितने ग्राहक बनाए थे। इसी तरह बेलबाग व लार्डगंज पुलिस भी पकड़े गए सटोरियों से पूछताछ कर बड़े बुकियों की तलाश में है। 
युवा बन रहे  शिकार
आईपीएल क्रिकेट के सट्टे में सबसे ज्यादा प्रभावित युवा पीढ़ी हो रही है। उधार में आईडी देकर सट्टा खिलाने वाले युवाओं को इस खेल के प्रति आकर्षित कराते हैं, जिससे युवा धीरे-धीरे इस बुरी लत का शिकार हो जाते हैं। इसके दुष्परिणाम लंबे समय तक नजर आते हैं। सट्टे में हार की उधारी चुकाने युवा अपराधों में लिप्त हो जाते हैं और गंभीर वारदातों को अंजाम देते हैं। 
बड़े बुकियों का अब तक पता नहीं 
आईपीएल क्रिकेट शुरू होते ही बड़े बुकी शहर से बाहर भाग गये और पुलिस के हाथ छोटे-मोटे सटोरिए आ रहे हैं। बड़े बुकी मोबाइल पर आईडी बाँटकर शहर से बाहर चले गये हैं और वहाँ से मोबाइल एप के जरिए इस कारोबार को संचालित कर रहे हैं जिसके चलते वे पुलिस की पकड़ से दूर हैं। पुलिस के पास अब एक ही रास्ता है कि जो सटोरिये पकड़े जा रहे हैं, उनके पास मिले मोबाइल व लिंक के आधार पर यह पता लगाया ज सकता है कि उनके द्वारा किस बड़े बुकी से लिंक ली गई थी। 
 

कमेंट करें
51ugl
NEXT STORY

Tokyo Olympics 2020:  इस बार दिखेगा भारत के 120 खिलाड़ियों का दम, 18 खेलों में करेंगे शिरकत

Tokyo Olympics 2020:  इस बार दिखेगा भारत के 120 खिलाड़ियों का दम, 18 खेलों में करेंगे शिरकत

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। टोक्यो ओलंपिक का काउंटडाउन शुरु हो चुका हैं। 23 जुलाई से शुरु होने जा रहे एथलेटिक्स त्यौहार में भारतीय दल इस बार 120 खिलाड़ियों के साथ 18 खेलों में दावेदारी पेश करेगा। बता दें 81 खिलाड़ियों के लिए यह पहला ओलंपिक होगा। 120 सदस्यों के इस दल में मात्र दो ही खिलाड़ी ओलंपिक पदक विजेता हैं। पी.वी सिंधू ने 2016 रियो ओलंपिक में सिल्वर तो वहीं मैराकॉम ने 2012 लंदन ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल अपने नाम किया था।

भारत पहली बार फेंनसिग में चुनौता पेश करेगा। चेन्नई की भवानी देवी पदक की दावेदारी पेश करेंगी। भारत 20 साल के बाद घुड़सवारी में वापसी कर रहा है, बेंगलुरु के फवाद मिर्जा तीसरे ऐसे घुड़सवार हैं जो ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे। 

olympic

युवा कंधो पर दारोमदार

टोक्यो ओलंपिक में भाग लेने जा रहे भारतीय दल में अधिकतर खिलाड़ी युवा हैं। 120 खिलाड़ियों में से 103 खिलाड़ी 30 से भी कम आयु के हैं। मात्र 17 खिलाड़ी ही 30 से ज्यादा उम्र के होंगे। 

भारतीय दल में 18-25 के बीच 55, 26-30 के बीच 48, 31-35 के बीच 10 तो वहीं 35+ उम्र के 7 खिलाड़ी हिस्सा ले रहे हैं। इस लिस्ट में सबसे युवा 18 साल के दिव्यांश सिंह पंवार हैं, जो शूटिंग में चुनौता पेश करेंगे, तो वहीं सबसे उम्रदराज 45 साल के मेराज अहमद खान होंगे जो शूटिंग में ही पदक के लिए भी दावेदार हैं।