दैनिक भास्कर हिंदी: पालकमंत्री ने की विकास कार्यों की समीक्षा, राऊत बोले- उद्योगों के लिए योजना प्रारूप तैयार करें

January 10th, 2020

डिजिटल डेस्क, नागपुर। पालकमंत्री बनने के बाद गुुरुवार को शहर में पहुंचते ही डॉ. नितीन राऊत विकास कार्यों के लिए प्रयासों के काम में जुट गए हैं। उन्होंने जिला प्रशासन के अधिकारियों के साथ विकास योजनाओं की समीक्षा की। अधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि वे उद्योगों को प्रोत्साहन देने के लिए योजना प्रारूप तैयार करें। अभियांत्रिकी व अन्य व्यावसायिक शिक्षा लेकर रोजगार की तलाश कर रहे युवाओं को रोजगार दिलाने की दिशा में भी उपाययोजना पर विचार किया गया। जिलाधिकारी कार्यालय के बचत भवन में विकास योजनाओं की समीक्षा की गई। उन्होंने कहा कि मुंबई पुणे के अलावा विदर्भ में बड़े उद्योग लाने के लिए अनुकूल वातावरण तैयार करने का प्रयास सरकार कर रही है। एडवांटेज विदर्भ जैसी उद्योग परिषद आयोजित करने का विचार है। जिला नियोजन अधिकारी मिलिंद नारिंगे ने जानकारी दी कि जिले में योजनाओं के लिए 876 करोड़ रुपए की योजना प्रारूप मंजूर है। अब तक 67 प्रतिशत खर्च किया गया है। अनुसूचित जाति जनजाति से संबंधित योजनाओं में 50 प्रतिशत खर्च हुआ है। पालकमंत्री ने सड़क विकास व सार्वजनिक निर्माण कार्य विभाग की निधि निर्धारित प्रणाली से समय पर खर्च करने के निर्देश दिए।

जनता की समस्याएं दूर होंगी

राऊत ने कहा कि जनता की अड़चनें दूर करने पर जोर दिया जाएगा। जिला नियोजन अधिकारी नारिंगे ने जिले में चल रहे विकास कार्यों की संक्षिप्त जानकारी दी। उद्योग व स्व रोजगार, शहर में कचरा व्यवस्थापन, सार्वजनिक स्थलों का सौंदर्यीकरण, शहर में बढ़ते वाहन की संख्या की दृष्टि से पार्किंग व्यवस्था, कौशल विकास की जानकारी ली। साइबर अपराध पर प्रतिबंध के लिए पुलिस िवभाग को काम करने को कहा। स्मार्ट सिटी प्रकल्प के बारे में अलग से बैठक ली जाएगी। जिलाधिकारी रवींद्र ठाकरे, पुलिस आयुक्त डॉ. भूषण कुमार उपाध्याय, पुलिस अधीक्षक राकेश ओला, मनपा आयुक्त अभिजीत बांगर, नासुप्र के अपर आयुक्त हेमंत पवार व अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

 

खबरें और भी हैं...