• Dainik Bhaskar Hindi
  • City
  • Havildar arrested for taking bribe - threatened to implicate the applicant in the case of murder

दैनिक भास्कर हिंदी:  रिश्वत लेते  हवलदार गिरफ्तार -आवेदक को दी थी हत्या के मामले में फंसाने की धमकी

September 11th, 2019

डिजिटल डेस्क पन्ना/टिकुरहा । पन्ना जिले के धरमपुर थाना अंतर्गत आने वाली नरदहा चौकी में लोकायुक्त पुलिस द्वारा छापामार कार्यवाही करते हुये 30 हजार रूपये की रिश्वत लेने के मामले में पुलिस चौकी नरदहा में तैनात प्रधान आरक्षक गोमती तिवारी को रंगे हाथ गिरफ्तार करने की कार्यवाही की गयी है। डीएसपी राजेश खेड़े के नेतृत्व में लोकायुक्त सागर की 8 सदस्यीय टीम कार्यवाही के लिये आज नरदहा पहुंची। 
दी थी हत्या में फंसाने की धमकी
अपरान्ह लगभग साढ़े तीन बजे जब आरोपी प्रधान आरक्षक द्वारा फरियादी एवं शिकायत कर्ता वीरेन्द्र उर्फ बाबूलाल लोध निवासी ग्राम मकुरी से जैसे ही 30 हजार रूपये की रिश्वत ली। लोकायुक्त पुलिस द्वारा घेराबंदी करते हुये आरोपी प्रधान आरक्षक गोमती तिवारी को पकड़ लिया गया तथा उसके कब्जे से रिश्वत की कैमिकल युक्त नोट जप्त करते हुये प्रकरण दर्ज करने एवं गिरफ्तारी करने की कार्यवाही की गयी है।  धरमपुर थाना क्षेत्र की चौकी नरदहा अंतर्गत आने वाले ग्राम मकरी निवासी बैधनाथ गुप्ता की दिनांक 15 जून को अपनी मोटरसाईकिल से कालिंजर गया था और वहां से अपने गांव मकरी वापस उसे आना था किंतु वह घर नही पहुंच पाया और मकरी से कुछ दूर स्थित टिकुरहन हार में अचेत स्थिति में पड़ा हुआ मिला था जिसकी उपचार के दौरान मौत हो गयी थी। संबंधित घटना को लेकर पुलिस द्वारा मर्ग कायम है और इस मामले की जांच चौकी पुलिस द्वारा की जा रही थी। आरोप है कि मामले की जांच कर रहे प्रधान आरक्षक गोमती तिवारी द्वारा मकरी गांव में ही रहने वाले वीरेन्द्र उर्फ बाबूलाल लोध से पूछ-तांछ करते हुये उसके खिलाफ संबंधित घटना में अपराधिक मामला दर्ज करने को लेकर धमकियां दी जा रही थी और ऐसी कार्यवाही नही किये जाने को लेकर प्रधान आरक्षक द्वारा वीरेन्द्र उर्फ बाबूलाल लोध से रिश्वत की रकम मांगी जा रही थी। प्रधान आरक्षक द्वारा परेशान किये जाने और रिश्वत मांगे जाने से तंग वीरेन्द्र उर्फ बाबूलाल लोध ने 7 सितम्बर को सागर पहुंच कर लोकायुक्त पुलिस सागर के एसपी से मुलाकात की तथा प्रधान आरक्षक द्वारा फर्जी तरीके से प्रकरण में फसाने अन्यथ: 30 हजार रूपये की रिश्वत मांगे जाने के संबंध में जानकारी देते हुये शिकायत दर्ज करायी गयी। एसपी लोकायुक्त रामेश्वर यादव द्वारा शिकायत को गंभीरता से लेते हुये लोकायुक्त टीम को शिकायत के सत्यापन का निर्देश दिया जिस पर लोकायुक्त पुलिस द्वारा दिनांक 8 सितम्बर को नरदहा पहुंच कर शिकायत कर्ता और आरोपी के बीच हुई बात-चीत को रिकार्ड किये जाने की कार्यवाही की गयी। रिकार्डिंग में शिकायत सही पाये जाने पर लोकायुक्त टीम द्वारा पुलिस अधीक्षक  लोकायुक्त सागर को अवगत कराया गया और पुलिस अधीक्षक लोकायुक्त सागर के निर्देश पर आज डीएसपी लोकायुक्त सागर के साथ 8 सदस्यीय टीम नरदहा पहुंची और छापामार कार्यवाही के लिये फरियादी के साथ बात-चीत करते हुये पूरी योजना बनायी गयी तथा कैमिकल युक्त नोट शिकायतकर्ता को लोकायुक्त पुलिस द्वारा देते हुये पुलिस चौकी नरदहा में मौजूद प्रधान आरक्षक के पास भेजा गया और लोकायुक्त पुलिस आसपास तैनात हो गयी तथा जैसे ही फरियादी द्वारा आरोपी प्रधान आरक्षक गोमती तिवारी को कैमिकल युक्त रिश्वत के नोट दिये लोकायुक्त पुलिस द्वारा आरोपी को घेराबंदी करते हुये कार्यवाही शुरू कर दी। 

खबरें और भी हैं...