comScore

15 अगस्त को देखते हुए नागपुर में हाई अलर्ट

15 अगस्त को देखते हुए नागपुर में हाई अलर्ट

डिजिटल डेस्क, नागपुर। हाल ही में कश्मीर से धारा 370 को खत्म करने और 15 अगस्त को देखते हुए उपराजधानी को आज से हाई अलर्ट किया गया है। डॉ. बाबासाहब आंबेडकर अंतरराष्ट्रीय विमानतल नागपुर से लेकर रेलवे स्टेशन तक संभावित आतंकी गतिविधियों को देखते हुए सुरक्षा की दृष्टि से यह निर्देश जारी किया गया है। विमानतल और रेलवे स्टेशनों पर सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है। विमानतल से दूसरे शहरों को जाने वाले यात्रियों की विमानतल पर दो बार जांच की जाएगी। विमानतल के प्रवेश द्वार पर सुरक्षा कर्मियों द्वारा स्कैनिंग की जाएगी। उसके बाद विमान में सवार होने से पहले भी संबंधित विमान कंपनी द्वारा जांच की जाएगी। इसी प्रकार ट्रेनों की गहनता से छानबीन की जा रही है। आरपीएफ के जवानों की छुटि्टयां भी रद्द कर दी गई हैं।  विमानतल पर 10 अगस्त से 20 अगस्त तक अलर्ट रहेगा।

विभिन्न एजेंसियों ने की बैठक : स्वतंत्रता दिवस पर सामान्य तौर पर विमानतलों पर अलर्ट रहता है, लेकिन जम्मू-कश्मीर के हालात और पाकिस्तान प्रायोजित आतंकी गतिविधियों को ध्यान में रखते हुए यह अलर्ट 10 दिन के लिए 20 अगस्त तक जारी किया गया है। इससे विमानतल पर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था रहेगी। हाल ही में विमानतल के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ विभिन्न एजेंसियाें की बैठक में विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की गई है। इसमें प्रत्येक बिंदु पर बात कर उनको कवर करने का निर्णय लिया गया है। अलर्ट को लेकर पहले से ही िनयमावली तैयार है, जिसके आधार पर सुरक्षा कदम उठाए जाएंग

आरपीएफ, जीआरपी सतर्क

नागपुर रेलवे स्टेशन देश के बड़े और संवेदनशील स्टेशनों में शामिल है। यहां रोजाना बड़ी संख्या में गाड़ियों का आवागमन होता है। प्रतिदिन हजारों की संख्या में यात्री यहां से आवागमन करते हैं। इन्हीं बातों को ध्यान में रखते हुए स्टेशन पर सुरक्षा व्यवस्था को लेकर खास ऐहतियात बरता जा रहा है। धारा 370 हटाने और स्वतंत्रता दिवस के कारण आतंकवादी गतिविधियां सक्रिय होने से इनकार नहीं किया जा सकता है। ऐसे में नागपुर रेलवे स्टेशन हाई अलर्ट देते हुए आरपीएफ और जीआरपी के जवानों को सतर्क किया गया है। खासकर मुंबई व हावड़ा की ओर से आनेवाली गाड़ियों की कड़ाई से जांच-पड़ताल की जा रही है। स्टेशन पर बीडीडीएस व श्वान पथक से पहले की तुलना में ज्यादा पेट्रोलिंग कराई जा रही है। मुख्य द्वारा से लगेज लेकर आनेवाले यात्रियों की बैग की जांच हो रही है। स्टेशन परिसर में संदेहास्पद दिखनेवाले व्यक्ति को हिरासत में लेकर सख्ती से पूछताछ भी की जा रही है।

इन पर रहेगा विशेष फोकस

  • बाहर से आने वाली नॉन सेड्यूल फ्लाइट, हेलीकॉप्टर व अन्य एयर क्राॅफ्ट की जांच की जाएगी। नॉन सेड्यूल विमान और हेलीकॉप्टर कई बार ऐसे जगह से भी आते हैं, जहां जांच नहीं की जाती है। इसलिए इनकी जांच की जाएगी।
  • क्विक रिस्पॉन्स टीम (क्यूआरटी) को बढ़ाया गया है, जिससे आपात स्थिति में वह तत्काल जवाब दे सके।
  • वाहनों को बाहर ही रोका जा रहा है। प्रत्येक वाहन की जांच करने के बाद ही आगे जाने दिया जा रहा है।
  • नाकों पर सुरक्षाकर्मियों को बढ़ा दिया गया है, जिससे प्रत्येक आने-जाने वाले पर नजर रखी जा सके।
  • विमानतल में जाने वाले अधिकारियों के सामान की भी जांच की जाएगी। सामान्यतौर पर सिर्फ अधिकारी की ही जांच की जाती है।
  • विमानतल के पास आने वाले प्रत्येक ड्रोन, हेलीकॉप्टर और गुब्बारों पर नजर रखी जाएगी।
कमेंट करें
ZQuPb