comScore

बापू पर विवादित ट्वीट करने वाली आईएएस अधिकारी पर गिरी गाज

बापू पर विवादित ट्वीट करने वाली आईएएस अधिकारी पर गिरी गाज

डिजिटल डेस्क, मुंबई। सरकार ने चौतरफा दबाव के बाद महात्मा गांधी को लेकर विवादित ट्वीट करने वाली आईएएस अधिकारी निधि चौधरी का तबादला कर दिया है। निधि को प्रदेश के जलापूर्ति व स्वच्छता विभाग में उपसचिव के पद पर भेजा गया है। निधि मुंबई महानगर पालिका में उपायुक्त पद पर कार्यरत थीं। 

बीएमसी से जलापूर्ति विभाग में भेजी गई चौधरी 

सोमवार को राज्य के जलसंसाधन मंत्री गिरीश महाजन ने यह जानकारी दी। महाजन ने बताया कि निधि को कारण बताओ नोटिस भी जारी किया गया है। रविवार को विपक्ष ने मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से निधि के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की थी। राष्ट्रवादी कांग्रेस के अध्यक्ष शरद पवार ने भी मुख्यमंत्री को पत्र लिखा था जबकि प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष अशोक चव्हाण ने निधि को निलंबित करने की मांग की थी। 

महात्मा गांधी को लेकर किया था ट्वीट

इससे पहले निधि ने ट्वीट कर पूरी दुनिया से महात्मा गांधी की प्रतिमाएं और भारत की मुद्रा से गांधी की तस्वीरें हटाने की बात करते हुए उन्होंने गांधी की हत्या करने वाले नाथूराम गोडसे को धन्यवाद कहा था। इस ट्विट को लेकर निधि की काफी आलोचना हुई। इसके बाद विवाद बढ़ता देख निधि ने ट्वीट को हटा लिया। निधि ने दावा किया कि उनका ट्वीट व्यंग्यात्मक था। उसकी व्याख्या गलत की गई। चौधरी का कहना था कि वे महात्मा गांधी के विचारों में विश्वास रखती हैं और कभी गांधी का अपमान नहीं कर सकती। 

कस्टम्स एंड सेंट्रल एक्साइज में 83 अधीक्षकों के तबादले

उधर नागपुर से खबर है कि कस्टम्स, सीजीएसटी एण्ड सेंट्रल एक्साइज मुख्य आयुक्तालय नागपुर की ओर से अधीक्षक स्तर के 83 अधिकारियों का तबादला कर दिया गया है। तबादला सूची में कई चौकानेवाले नाम है, जिनका तबादला सेंसेटीव से सेंसेटीव जगह ही किया गया है। ट्रांसफर एण्ड पोस्टिंग के मानकों को दरकिनार कर कई अधिकारियों को मलाईदार जगह (क्रीम पोस्ट) पर नियुक्ति की गई है। ट्रांसफर एण्ड पोस्टिंग के मानकों के अनुसार सेंसेटीव से नॉन सेंसेटीव व नॉन सेंसेटीव से सेंसेटीव जगह भेजना चाहिए। ताकि सभी अधिकारी को सेंसेटीव जगह पर काम करने का मौका मिल सके। जो अधिकारी लंबे समय से सेंसेटीव जगह तैनात है, उन्हें भी दोबारा सेंसेटीव जगह पर भेजा गया है। करीबियों का ख्याल रखने की चर्चा तबादला सूची देखकर लगाया जा रहा है। कस्टम्स, सीजीएसटी एण्ड सेंट्रल एक्साइज नागपुर के मुख्य आयुक्त की मंजूरी से ये तबादले हुए है। मुख्य आयुक्तालय के तहत आनेवाले कमिश्नर नागपुर-1, नागपुर-2, कमिश्नर अपील, कमिश्नर आडिट व कमिश्नर कस्टम में तबादले हुए है। मुख्य आयुक्त एच. भिमाशंकर की मंजूरी से अपर आयुक्त डी. पी. सिंह कुशवाह के हस्ताक्षर से 31 मई को यह आदेश जारी हुआ है। 

कमेंट करें
YGFte