दैनिक भास्कर हिंदी: आंधी में इंडिगो का विमान क्षतिग्रस्त, कोंढाली में बिजली गिरने से किसान की मौत

May 27th, 2018

डिजिटल डेस्क, नागपुर। शहर में शनिवार की शाम को आई तेज आंधी से एक विमान क्षतिग्रस्त हो गया। सीढ़ी की वजह से यह घटना हुई। इस वजह से शाम 6 बजे कोलकत्ता के लिए उड़ान भरने वाला इंडिगो का विमान सवा 4 घंटा के बाद उड़ान भर सका। वहीं इंडिगो का शाम को 6.40 बजे आने वाला 7104 नागपुर-हैदराबाद विमान रद्द कर दिया गया। कई विमान भी नागपुर एयरपोर्ट पर देरी से पहुंचे। इंडिगो के विमान क्रमांक 727 ने बेंगलुरु के लिए शाम 4.35 बजे की जगह आधा घंटा देरी से उड़ान भरी। वहीं इंडिगो के 436 ने बेंगलुरु के लिए रात 8.30 बजे की जगह 1 घंटा, इंडिगो के 404 ने मुंबई के लिए 8.30 बजे की जगह 1 घंटा, गो एयर के 284 ने रात 8.45 बजे की जगह आधा घंटे, एयर इंडिया के 630 ने मुंबई के लिए रात 9.15 बजे की जगह 1 घंटा, जेट एयरवेज के 866 ने मुंबई के लिए रात 9.45 बजे की जगह डेढ़ घंटा और इंडिगो के 221 ने पुणे के लिए रात 10.10 बजे की जगह आधा घंटे देरी से उड़ान भरी।

आंधी में इंडिगो का विमान क्षतिग्रस्त
शनिवार शाम को तेज हवा व कड़कती बिजली के साथ हुई बारिश से शहर में तीन दर्जन से ज्यादा पेड़ धराशायी हो गए। इससे यातायात प्रभावित हो गया। पेड़ गिरने से कई वाहन क्षतिग्रस्त हो गए। भारी गर्मी के बीच अचानक हुई बारिश से लोग जहां थे, वहीं रुकने को मजबूर हो गए। बारिश थमने के बाद रात को ठंडी हवा चली आैर  शहरवासियों को गर्मी से राहत मिली। दमकल विभाग सड़क पर गिरे पेड़ों को हटाने में देर रात तक लगा रहा। दमकल विभाग ने स्पष्ट किया कि कई जगह पेड़ गिरे हैं, लेकिन जनहानि या कोई नकुसान नहीं हुआ है।

शनिवार शाम को चली तेज हवा व कड़कड़ाती बिजली के बीच अचानक मौसम का मिजाज बदल गया आैर आसमान में अंधेरा छा गया। लोग कुछ समझ पाते, इसके पूर्व ही तेज हवा के चलने के बाद बारिश शुरू हाे गई। अचानक तेज बारिश होने से लोग भीगते हुए जहां थे, वहीं रुकने को मजबूर हो गए। शाम को खरीदारी के लिए निकले लोग बारिश से बचने के लिए  इधर-उधर जगह तलाशते भागदौड़ करते रहे। मौसम का मिजाज बदलने से शहर का तापमान भी कुछ ठंडा हो गया। शाम को गुलजार हुए बाजारों में अफरातफरी सा माहौल रहा। दुकानदार बाहर रखे सामानों को समेटते देखे गए। दिन में  तेज धूप के चलते लोग शाम को खरीदारी करने के लिए निकले थे। बारिश के कारण लोगों को शाम के कार्यक्रम बदलने पड़े।

बारिश के दौरान दमकल विभाग को जगह-जगह पेड़ गिरने की सूचना मिलती रही। सीए रोड के वर्धमान नगर चौक, सुभान नगर, उमरेड रोड पर रेशमबाग, भांडे प्लाट चौक, शेष नगर, जवाहर नगर, कामगार कल्याण, नया सुभेदार, क्रीड़ा चौक, मेडिकल चौक, मानेवाड़ा के उदयनगर, मनीष नगर रेलवे गेट, वर्धा रोड के तपोवन काम्प्लेक्स, नागपुर एयरपोर्ट परिसर, न्यू शुक्रवारी रोड, शंकर नगर, बजाज नगर, कलमना, इतवारी में जगह-जगह पेड़ गिरने की सूचना मिली। हनुमान नगर व रेशमबाग में कार के ऊपर  पेड़ गिरने से वाहनों का नुकसान हुआ। दुपहिया वाहन भी इसकी चपेट में आए। तेज हवा और बारिश से शहर का जनजीवन प्रभावित हुआ। कई चौराहों और रास्तों पर पानी जमा हो गया था। हालांकि कुछ समय बाद ही सड़क पर जमा पानी हट गया।

बिजली गिरने से किसान की मौत
काटोल तहसील के मूर्ति निवासी किसान जीवन रामचंद्र गाडरे (26) समीपस्थ वलनी डफर स्थित खेत में गया था। शनिवार की शाम अचानक तेज हवा और बिजली कड़कने के साथ बारिश शुरू हो गई। इससे जीवन अपने दो भाइयों के साथ वापस घर लौट रहा था। इसी बीच शाम सात बजे जीवन गाडरे पर आकाशीय बिजली गिर पड़ी, जिससे उसने मौके पर ही दम तोड़ दिया। घटना की सूचना चंदनपार्डी के पुलिस पाटील उमेश खवशी ने दी। घटना में दोनों भाई सकुशल बचने की जानकारी काटोल के नायब तहसीलदार निलेश कदम व तहसीलदार प्रसाद मते ने दी है।