दैनिक भास्कर हिंदी: इंस्पेक्टर ने पास की यूपीएससी परीक्षा, चौथे प्रयास में मिली सफलता

May 2nd, 2018

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  इरादे पक्के हों, और इंसान यदि साथ में मेहनत करे तो मंजिल भी कदम चूमती है। तीन बार सफलता नहीं मिलने के बावजूद हार नहीं माननेवाले सेंट्रल जीएसटी के इंस्पेक्टर आरिफ खान ने चौथे प्रयास में संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) की परीक्षा पास की। आरिफ इसका श्रेय अपने माता-पिता को देते हैं, जो हर स्थिति में चट्टान बनकर उसके साथ खड़े रहे। सामान्य परिवार में पले-बढ़े झांसी निवासी आरिफ खान ने आईआईटी कानपुर से बीटेक (बॉयो इंजीनियरिंग) किया। 

बड़ा पैकेज छोड़ तैयारी की यूपीएससी की 
 उल्लेखनीय है कि आरिफ खान बीटेक करने के बाद दिल्ली की एक नामी कंपनी में 14 लाख सालाना पैकेज पर काम किया। आरिफ का सपना आईएएस बनकर देश व समाज की सेवा करने का था। उन्होंने नौकरी छोड़ कर यूपीएससी की तैयारी शुरू की। 2014 में पहली बार यूपीएससी की परीक्षा दी और केवल 7 अंक से चूक गए। 2015 में पुन: परीक्षा दी आैर 9 अंक से पीछे रह गए। इस बीच स्टाफ सिलेक्शन की परीक्षा दी और 2016 में उनका चयन सेंट्रल एक्साइज एंड कस्टम (अब जीएसटी) में इंस्पेक्टर के तौर पर हो गया। उनकी पहली पोस्टिंग नागपुर में हुई। 

मुकाम हासिल करके रहूंगा : आरिफ खान
चौथे प्रयास में देश की प्रतिष्ठित सिविल सेवा परीक्षा में पास होने की खुशी है, लेकिन आईएएस का रैंक नहीं मिल पाने का दर्द भी है। आईएएस बनने का सपना है आैर आईएएस नहीं बन पाया, तो आईपीएस बनकर समाज की सीधी सेवा करना चाहता हूं। फिर जोर-शोर से तैयारी करूंगा आैर अपना मुकाम हासिल करके ही रहूंगा। माता-पिता ने हर समय मेरा साथ दिया। मेरे हर फैसले में उनका योगदान रहा है। कोचिंग काफी महंगी होने से चंद महीने ही दिल्ली में कोचिंग कर सका। सिविल सेवा में आने के लिए ही कंपनी में मिली मोटे पैकेज की नौकरी छोड़ दी। समाज के लिए बहुत कुछ करना है।