दैनिक भास्कर हिंदी: संवैधानिक संकट पैदा कर सरकार गिराने का इरादा, नहीं मिलेगी कामयाबी - जयंत पाटील

April 20th, 2020

डिजिटल डेस्क, मुंबई। प्रदेश के जलसंसाधन मंत्री जयंत पाटील ने भाजपा को निशाने पर लेते हुए कहा कि संवैधानिक संकट पैदा करके कुछ लोगों के मन में सरकार गिराने का इरादा है। यही लोग ही मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के खिलाफ सोशल मीडिया पर अभियान चला रहे हैं लेकिन ऐसे लोग अपने इरादे में कामयाब नहीं होंगे। राज्य की महाविकास आघाडी की सरकार स्थिर है। तीनों दलों के विधायक एकजुट हैं। यह सरकार पांच नहीं बल्कि 15 सालों तक चलेगी।

रविवार को सोशल मीडिया के माध्यम से पत्रकारों से बातचीत में पाटील ने कहा कि मुझे विश्वास है कि राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को विधान परिषद में नामित करने संबंधित राज्य मंत्रिमंडल की सिफारिश को मंजूर करेंगे। पाटील ने कहा कि राज्यपाल के पास राज्य मंत्रिमंडल ने सिफारिश की है इसलिए उन्हें इस सिफारिश को मानना आवश्यक है। पाटील ने कहा कि मुझे नहीं लगता है कि राज्यपाल कानून के दायरे के बाहर जाकर कोई फैसला करेंगे। हमें उम्मीद है कि राज्यपाल को मुख्यमंत्री को नामित करेंगे। पाटील ने कहा कि कोरोना के संकट में भाजपा ने मध्यप्रदेश कांग्रेस की सरकार को गिरा दिया।

इस संकट के समय में भाजपा के कुछ नेताओं के मन में सरकार गिराने की बात सुझ रही है। यह दुर्भाग्य पूर्ण बात है। पाटील ने कहा कि अगर सरकार गिराने की कोशिश हुई तो भाजपा अपना नाम खराब कर लेगी। पाटील ने कहा कि सभी लोग कोरोना से लड़ रहे हैं लेकिन राज्य में भाजपा के हाथ से सत्ता चली गई है। इसलिए भाजपा के नेताओं के मन में निराशा छाई हुई है। इस दौरान पाटील ने कहा कि देश भर मे कोरोना के सबसे अधिक मरीज महाराष्ट्र में हैं।

इस आधार पर केंद्र सरकार को सबसे अधिक मदद महाराष्ट्र को करना चाहिए। इसके लिए राज्य के उपमुख्यमंत्री अजित पवार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र भी लिखा है। पाटील ने कहा कि कोरोना संकट को देखते हुए इस बीमारी के इलाज में इस्तेमाल आने वाले चिकित्सा उपकरणों की जीएसटी दर को केंद्र सरकार को बिना मांग किए कम कर देना चाहिए। 

 

खबरें और भी हैं...