दैनिक भास्कर हिंदी: हाईवे पर लूटपाट करने वाले गिरोह का पर्दाफाश, फ्लाइट आते थे आरोपी

September 7th, 2018

डिजिटल डेस्क, मुंबई। नई मुंबई पुलिस ने हाईवे पर लूटपाट करने वाले एक अंतरराज्यीय गिरोह का भांडाफोड़ किया है। मामले में दिल्ली के रहने वाले तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर करीब 10 लाख रुपए का माल बरामद किया गया है। हैरानी की बात ये है कि आरोपी लूटपाट की वारदात अंजाम देने फ्लाइट से आते थे और लूटपाट के बाद वापस फ्लाइट से ही दिल्ली जाते थे। आरोपियों ने विभिन्न राज्यों में लूटपाट की 20 से ज्यादा वारदातों को अंजाम दिया है। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मकोका कानून की संबंधित धाराओं के तहत एफआईआर दर्ज की है।

पुलिस के मुताबिक आरोपी मुंबई-गोवा हाइवे पर अकेले सफर करने वाले यात्रियों को निशाना बनाते थे। निजी मराठी न्यूज चैलन के एंकर गिरीष निकम, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के मुख्य प्रबंधक सुधीर जालन पुरे से भी पकड़े गए आरोपियों ने ही लूटपाट की थी। दरअसल हाईवे पर लूटपाट की कई शिकायतों के बाद अपराधियों को पकड़ने के लिए नई मुंबई अपराध शाखा की एक विशेष टीम बनाई गई थी। कड़ी मशक्कत के बाद हासिल हुए कुछ सबूतों के आधार पर पुलिस ने मुंबई एयरपोर्ट से पहले गुरूचरण सिंह चाहल नाम के आरोपी को गिरफ्तार किया।

इसके बाद उसकी निशानदेही पर अहमद हसन इस्लामिउद्दीन शेख और गुलफाम हसन नाम के दो और आरोपियों को दबोच लिया तीनों आरोपी दिल्ली के बुराडी इलाके के रहने वाले हैं। मामले में सुमित नरुला नाम के एक और आरोपी की तलाश है। पुलिस के मुताबिक आरोपी कभी पिस्तौल की नोक पर तो कभी बेहोशी की दवा सुंधाकर अकेले सफर करने वालों को लूट लेते थे। आरोपियों के खिलाफ नई मुंबई और पुणे के पुलिस स्टेशनों में सात एफआईआर दर्ज है।

इसके अलावा आरोपियों ने पंजाब, हरियाणा, दिल्ली में भी लूटपाट की कई वारदातों को अंजाम दिया है। लगातार इस तरह के अपराध में लिप्त रहने के चलते पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मकोका कानून की संबंधित धाराओं के तहत एफआईआर दर्ज की है। मामले की जांच एसीपी अजय कदम कर रहे हैं।