comScore

एनसीपी को झटका रणजीतसिंह मोहिते-पाटील ने थामा बीजेपी का दामन, माढा सीट से ठोकेंगे ताल

March 20th, 2019 19:31 IST
एनसीपी को झटका रणजीतसिंह मोहिते-पाटील ने थामा बीजेपी का दामन, माढा सीट से ठोकेंगे ताल

डिजिटल डेस्क, मुंबई। लोकसभा चुनाव के जोर पकड़ने से पहले भाजपा ने अब राष्ट्रवादी कांग्रेस को झटका दिया है। राष्ट्रवादी कांग्रेस के माढा सीट से सांसद और पूर्व उपमुख्यमंत्री विजयसिंह मोहिते- पाटील के बेटे रणजीतसिंह मोहते- पाटील भाजपा में शामिल हो गए। रणजीतसिंह भाजपा के टिकट पर माढा सीट से लोकसभा चुनाव लड़ेंगे। बुधवार को मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और प्रदेश अध्यक्ष रावसाहब दानवे की मौजूदगी में रणजीतसिंह ने भाजपा में प्रवेश किया। वानखेडे स्टेडियम के गरवारे क्वब हाऊस में आयोजित कार्यक्रम में रणजीतसिंह के साथ राष्ट्रवादी कांग्रेस के सोलापुर समेत कई जिलों के पदाधिकारी भी भाजपा में शामिल हुए। मुख्यमंत्री ने कहा कि रणजीतसिंह के पार्टी में शामिल होने से माढा सीट से सांसद भाजपा का ही होगा। अब इसमें कोई आशंका नहीं बची है। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र की राजनीति मोहिते- पाटील परिवार के बिना पूरी नहीं हो सकती है। इसकी मुझे खुशी है कि रणजीतसिंह के पार्टी में शामिल होने से महाराष्ट्र के समाजिक और राजनीति क्षेत्र का एक बड़ा घराना भाजपा से जुड़ा है। इससे पश्चिम महाराष्ट्र में भाजपा की ताकत बढ़ेगी।

माढा सीट से लड़ेंगे लोकसभा चुनाव

मोहिते- पाटील परिवार के सम्मान को भाजपा में कभी कम नहीं दिया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि तत्कालीन उपमुख्यमंत्री विजयसिंह ने कृष्णा-भीमा स्थिरीकरण परियोजना को मंजूर कराया। लेकिन उस समय आघाडी सरकार के कुछ लोगों ने पूरी नहीं होने दी। क्योंकि वे लोग इसका श्रेय विजयसिंह को नहीं देना चाहते थे। लेकिन भाजपा की सरकार सिंचाई की परियोजनाओं के लिए निधि की कमी कभी नहीं होने देगी। रणजीतसिंह ने कहा कि साल 2004 में तत्कालीन उपमुख्यमंत्री विजयसिंह ने कृष्णा-भीमा स्थिरीकरण परियोजना को मंजूर कराया था। 5 हजार करोड़ रुपए की इस परियोजना से 6 जिलों के 31 तहसीलों में पानी की समस्या खत्म हो जाती। लेकिन आघाडी सरकार के समय परियोजना का मजाक उड़ाया गया। परियोजना को गति नहीं दी जा सकी। लेकिन भाजपा सरकार बनने के बाद अब परियोजना का काम शुरू हुआ है। भाजपा सरकार बनने के बाद पिछले पांच सालों में माढा संसदीय क्षेत्र में काफी काम हुए हैं। इसलिए हम लोग भाजपा नेतृत्व पर विश्वास करके पार्टी में शामिल हो रहे हैं। इससे पहले विधान सभा में विपक्ष के नेता राधाकृष्ण विखे पाटील के बेटे सुजय विखे पाटील ने कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुए थे। 

राष्ट्रवादी कांग्रेस के सांसद विजयसिंह भी मन से भाजपा के साथ - मुख्यमंत्री 

मुख्यमंत्री ने कहा कि पत्रकारों के मन में सवाल उठ रहा होगा कि  रणजीतसिंह भाजपा में शामिल होंगे अब विजयसिंह का क्या होगा। इस पर मैं कहना चाहूंगा कि रणजीतसिंह अपने पिता विजयसिंह के आशीर्वाद से ही आए हैं। विजयसिंह का पूरा आशीर्वाद भाजपा के साथ में है। हम अगली चर्चा विजयसिंह से ही करेंगे। इसलिए इस बात की चिंता नहीं करनी चाहिए कि विजयसिंह राष्ट्रवादी कांग्रेस में हैं या फिर भाजपा में। विजयसिंह पूरी तरह से मन से भाजपा के साथ में हैं। 

उदय प्रताप सिंह ने भी थामा भाजपा का दामन

मुंबई में राष्ट्रवादी कांग्रेस के पूर्व नेता रहे उदय प्रताप सिंह ने भी भाजपा का दामन थाम लिया है। मुख्यमंत्री समेत भाजपा के वरिष्ठ नेताओं की मौजूदगी में उन्होंने समर्थकों के साथ पार्टी में प्रवेश किया। सिंह राष्ट्रवादी कांग्रेस के उत्तर भारतीय चहेरा के रूप में जाने जाते थे। लेकिन कुछ महीने पहले उन्होंने पार्टी से इस्तीफा दे दिया था। वे मुंबई के सिद्धि विनायक मंदिर के ट्रस्टी भी रह चुके हैं। 
 

कमेंट करें
UKmVs