दैनिक भास्कर हिंदी: नागपुर में पढ़ रहे कश्मीरी युवक ईद मनाने अपने घर के लिए निकले

August 6th, 2019

डिजिटल डेस्क,नागपुर। जम्मू-कश्मीर से धारा 370 हटाए जाने का असर नागपुर में पढ़ रहे कश्मीरी विद्यार्थियों में देखा गया। सरप्राइज के तौर पर सोमवार को संसद में पेश हुए गृहमंत्री अमित शाह के संकल्प के बाद पूरा घटनाक्रम तेजी से पूरा हुआ। दोपहर तक साफ हो गया कि धारा 370 हटा दिया गया है। नागपुर विश्वविद्यालय में कई कश्मीरी विद्यार्थी शिक्षा ले रहे हैं। उनसे मुलाकात करके उनकी स्थिति जानी। ये सभी विद्यार्थी ईद के लिए अपने घरों को लौटने की तैयारी कर रहे थे कि अचानक से यह फैसला लागू हुआ। बातचीत के दौरान सभी विद्यार्थियों ने एक स्वर में केंद्र सरकार के इस फैसले का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि यह निर्णय तो बहुत पहले हो जाना चाहिए था, हालांकि देर से निर्णय हुआ पर अच्छा हुआ। अब  लगता है कि उनके प्रदेश का तेजी से विकास होगा।

अपनों से बात नहीं हो पाई

कैंपस में एमएससी प्रथम वर्ष में पढ़ रहे बारामुला के निवासी विद्यार्थी ने कहा कि सरकार ऐसा कुछ करने वाली है, इसका कोई अंदाजा नहीं था, लेकिन घाटी में बदल रहे हालात से वाकिफ था। सोमवार सुबह 8 बजे ही परिवार से बात हुई थी। परिवार वालों ने उत्साह बढ़ाते हुए कहा कि डरने की कोई बात नहीं है, वे सुरक्षित हैं और वह भी नागपुर में अपना ख्याल रखे। उसके बाद उसका फोन बंद हो गया।  दरअसल, इन कश्मीरी विद्यार्थियों के पास उनके प्रदेश के प्री-पेड मोबाइल है, वहां मोबाइल फोन सेवाएं बंद हो गई हैं। लिहाजा उनके फोन भी बंद हो गए हैं। विद्यार्थियों ने बताया कि इसके कारण उनका परिवार से संपर्क टूट गया है।

उधार से काम चलाना होगा

पीएचडी रिसर्च कर रहे एक अभ्यर्थी ने बताया कि उसके और अन्य साथियों के  पैसे खत्म होने को हैं और अब उनके परिवार वाले कश्मीर में बैंक में जाकर उन्हें पैसे नहीं भेज सकेंगे। इस कारण वे परेशान हैं। उन्हें अब उधार लेकर काम चलाना होगा। लेकिन उसके सहपाठी अच्छे है, हर बार उसकी मदद की है। लिहाजा विश्वास है कि कोई तकलीफ नहीं होगी।

आगे की चिंता सता रही  

एक अन्य विद्यार्थी ने कहा कि अब आगे कुछ दिनों को लेकर उसे चिंता सता रही है। वह मंगलवार को घर के लिए रवाना हो रहा है, रास्ते में उससे कितनी बार पूछताछ होगी, उसे क्या क्या परेशानियां आएंगी, इसको लेकर डर है। लेकिन यह भी उम्मीद है कि जल्द ही स्थिति सामान्य हो जाएगी।