comScore

नाना पटोले ने पीएम से मांगा मिलने का समय, किसान विरोधी नीतियों के खिलाफ होगा प्रदर्शन

नाना पटोले ने पीएम से मांगा मिलने का समय, किसान विरोधी नीतियों के खिलाफ होगा प्रदर्शन

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। अखिल भारतीय किसान कांग्रेस ने मोदी सरकार में किसानों की लगातार खराब होती स्थिति पर चिंता जताते हुए आरोप लगाया है कि सरकार की किसान विरोधी नीतियों की वजह से किसान आत्महत्या करने को मजबूर हो रहे हैं। किसान कांग्रेस के अध्यक्ष नाना पटोले किसानों की समस्या को लेकर जल्द ही एक शिष्टमंडल के साथ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर से मिलेंगे।

मांगे नहीं मानी तो संसद का करेंगे घेराव : पटोले

यह जानकारी नाना पटोले ने यहां किसान कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्षों व पदाधिकारियों की बैठक के बाद कही। उन्होने बताया कि हमने प्रधानमंत्री और कृषि मंत्री से मिलने का समय मांगा है। उन्होने कहा कि किसान कांग्रेस ने पेट्रोल व डीजल के दामों में बढ़ोत्तरी के खिलाफ जिला स्तर पर विरोध प्रदर्शन करने का निर्णय लिया है। उन्होने कहा कि यदि सरकार ने उनकी मांगे नहीं मानी तो संसद का घेराव किया जाएगा। पटोले ने आरोप लगाया कि मोदी सरकार ने किसानों को उनकी फसल का दोगुना दाम देने का वादा पूरा नहीं किया है। सरकार ने महत्वपूर्ण फसलों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) में मामूली बढ़ोत्तरी करके किसानों के जले पर नमक छिड़कने का काम किया है।

किसानों की मुश्किलें और बढ़ी

ऊपर से पेट्रोल और डीजल का दाम बढ़ाकर किसानों की मुश्किलें और बढ़ा दी है। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना पर बोलते हुए उन्होने कहा कि यह योजना किसानों के लिए नहीं, बल्कि मुट्‌ठी भर उद्योगपतियों के फायदे के लिए लाई गई है। कांग्रेस नेता ने कहा कि मोदी सरकार की गलत नीतियों के चलते इस सरकार के दौरान किसान आत्महत्या की दर तेजी से बढ़ी है। 

कमेंट करें
cGOrT