comScore

मेट्रो कारशेड का स्थान बदलने के फैसले पर जानिए विशेषज्ञों की राय

मेट्रो कारशेड का स्थान बदलने के फैसले पर जानिए विशेषज्ञों की राय

डिजिटल डेस्क, मुंबई। महानगर के आरे में निर्माणाधीन मेट्रो कारशेड को अब कांजुरमार्ग शिफ्ट करने के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के फैसले को विशेषज्ञों ने अविवेकपूर्ण बताया है। विशेषज्ञों ने कहा है कि इससे मेट्रो-3 परियोजना एवं शहर की परिवहन व्यवस्था बुरी तरह प्रभावित होगी। शहरी योजनाकारों एवं परिवहन विशेषज्ञों ने कहा है कि मुंबई के हरित क्षेत्र आरे कॉलोनी से मेट्रो कोच शेड स्थानांतरित करने के फैसले से परियोजना में देरी होगी और इससे लागत के साथ ही परिचालन खर्च भी बढ़ेगा।

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने रविवार को आरे मेट्रो कोच शेड को समाप्त करने की घोषणा की थी। उन्होंने कहा था कि इस परियोजना को अब यहां से कंजुरमार्ग में सरकारी जमीन पर ले जाया जायेगा और इससे कोई लागत नहीं बढ़ेगी। विशेषज्ञों ने कहा कि कोच शेड को कंजुरमार्ग में स्थानांतरित करने का यह सही समय नहीं है क्योंकि कोलाबा-बांद्रा मेट्रो-3 परियोजना अब पूरी होने वाली है। इस परियोजना की शुरूआत 2013 में हुई थी । मुंबई के परिवहन विशेषज्ञ परेश रावल ने इसे ‘अविवेकपूर्ण’ निर्णय करार दिया है।

रावल ने बताया कि इससे शहर की परिवहन व्यवस्था गड़बड़ा जायेगी। उन्होंने यह भी कहा कि इससे मेट्रो-3 परियोजना में देरी होगी और खर्च भी बढ़ेगा साथ ही परिचालन लागत में वृद्धि होगी । शहरी योजनाकार सुलक्षणा महाजन ने कहा कि मेट्रो कोच शेड का निर्माण आरे कॉलोनी स्थित मौजूदा स्थान पर ही होना चाहिये क्योंकि इस काम पर बहुत पैसा खर्च हो चुका है और इसके लिये समग्र परियोजना रिपोर्ट भी तैयार हो चुकी है।

 
 
 

 
 
 

कमेंट करें
GE7NZ