comScore

नागपुर स्टेशन पर शराब तस्करों को दबोचा, चंद्रपुर लेकर जा रहे थे माल

नागपुर स्टेशन पर शराब तस्करों को दबोचा, चंद्रपुर लेकर जा रहे थे माल

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  चंद्रपुर के 7 अवैध शराब तस्करों को नागपुर रेलवे स्टेशन पर गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपियों में शाहरुख शान साकिर खान (20), हरीश उर्फ पिंटू श्रावण उइके (32), चंद्रपुर, सूरज हरिप्रसाद सूर्यवंशी (20), भूषण दीपक पासफुलकर (23), अजय दीपक जाधव (22), सुनील रामजी मंडल (30) और आशीष पुरुषोत्तम नारनवरे (23), बल्लारशाह, साईबाबा वार्ड, चंद्रपुर निवासी है। आरोपियों से 863 बोतल विदेशी शराब व 6 मोबाइल फोन सहित करीब 2 लाख 4 हजार रुपए का माल जब्त किया गया है। चंद्रपुर जिले में शराबबंदी है। बावजूद यह सभी आरोपी नागपुर से अवैध तरीके से शराब ले जाकर बेचने का काम करते हैं। गिरफ्तार तीन आरोपियों पर आपराधिक मामले भी दर्ज हैं। 

बैगों में खेप लेकर निकले थे
पुलिस सूत्रों के अनुसार अपराध शाखा पुलिस विभाग की यूनिट-4 को गुप्त सूचना मिली िक, चंद्रपुर के बल्लारशाह क्षेत्र के अवैध शराब तस्करों का एक गिरोह नागपुर रेलवे स्टेशन से विदेशी शराब की खेप लेकर जा रहा है। यूनिट-4 के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक अशोक मेश्राम सहयोगियों के साथ रेलवे स्टेशन पर पहुंचे। रेलवे स्टेशन परिसर में दस्ते ने जाल बिछाया। पुलिस के जाल में उक्त सभी आरोपी फंस गए। पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से 7 बैग जब्त किए। यह सभी बैग शराब की बोतलों भरी हुई थीं।

स्टेशन पर कशिश वाइन शॉप से खरीदा था माल
आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि, उन्होंने यह माल रेलवे स्टेशन के पास कशिश  वाइन शॉप से खरीदा है। माल ट्रेन से बल्लारशाह जाने वाले थे। इन सभी आरोपियों से दस्ते ने शराब जब्त की है। आरोपी शाहरुख खान पर मारपीट, हरीश उर्फ पिंटू उइके और भूषण पासफुलकर पर वर्धा जिले में जुआ प्रतिबंधक का मामला दर्ज है। वरिष्ठ अधिकारियों के मार्गदर्शन में यूनिट-4 के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक अशोक मेश्राम, एएसआई नागोराव इंगले, हवलदार शुक्ला, धंदर, देवेंद्र चव्हाण, अजय रोडे व अन्य ने कार्रवाई में सहयोग किया। 

बल्लारशाह में रवि अन्ना सबसे बड़ा शराब माफिया 
गिरफ्तार आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि वह तो सिर्फ परिवार के गुजर बसर के लिए शराब की तस्करी में लिप्त हैं , लेकिन उनके इलाके में रवि अन्ना नामक व्यक्ति अवैध शराब का सबसे बड़ा माफिया है। वह बडी मात्रा में अवैध शराब की बिक्री करता है। इस प्रकरण की गहन जांच होने पर इसमें कुछ सफेदपोश के नाम भी सामने आ सकते हैं। रवि अन्ना विदर्भ के शराब बंदी जिलों में अवैध शराब की तस्करी करता है। यह काराेबार वह कुछ पुलिस अधिकारियों और कर्मचारियों की मिलीभगत से चला रहा है। रवि अन्ना के खिलाफ पुलिस कार्रवाई करने से भी कतराती है। उसका नागपुर के कई शराब माफियाओं से सीधा संपर्क होने से वह नागपुर और मध्यप्रदेश से भी माल मंगाता है।  यूनिट 4 की इस कार्रवाई में पहली बार रवि अन्ना का नाम सामने आया है। 

कमेंट करें
CZOaw