दैनिक भास्कर हिंदी: महामेट्रो को मिले 165 करोड़, डबल डेकर प्रोजेक्ट को मिलेगी गति

August 19th, 2018

डिजिटल डेस्क, नागपुर। सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय की ओर से भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के माध्यम से महा मेट्रो को शनिवार को 165 करोड़ रुपए जारी किए गए हैं। इससे वर्धा रोड पर मेट्रो द्वारा किए जाने वाले डबल डेकर के काम को तेजी मिलेगी। अब तक महामेट्रो को 265 करोड़ रुपए मिल गए हैं। नागपुर शहर में पिछले 34 माह से मेट्रो का काम चल रहा है। इसमें एक रूट बर्डी से खापरी का है, जो वर्धा रोड से होकर जाता है। वर्धा रोड नेशनल हाईवे अथॉिरटी अंतर्गत आता है, लेकिन मेट्रो का रूट यहीं से बन रहा है। ऐसे में मेट्रो ने अजनी से प्राइड होटल तक राष्ट्रीय महामार्ग का विकास करने का भी जिम्मा लिया है।

एनएचएआई की ओर से महज 100 करोड़ रुपए ही मिले
प्लानिंग के अनुसार डबल डेकर में सबसे ऊपर मेट्रो फिर नीचे हाईवे और सबसे नीचे लोकल सड़क रहने वाली है। इस कार्य को पूरा करने के लिए एनएचआई को मेट्रो को 480 करोड़ रुपए देने हैं। काम शुरू होने के बाद से अब तक मेट्रो को एनएचएआई की ओर से महज 100 करोड़ रुपए ही मिले थे। दिसंबर के आखिर तक उपरोक्त कार्य पूरा करना है। महामेट्रो को अजनी चौक से होटल प्राइड तक फ्लाईओवर तथा इसे जोड़नेवाला मनीष नगर फ्लाईओवर व रेलवे उड़ानपुल के लिए 165 करोड़ की राशि प्रदान की गई है। कुल 265 करोड़ रुपए एनएचए की ओर से मेट्रो को मिल गए हैं। 

मनीषनगर फ्लाईओवर जुड़कर बनेगा टी प्वाइंट
अजनी चौक से प्राइड होटल तक बन रहे फ्लाईओवर के नेशनल हाईवे से मनीषनगर फ्लाईओवर को जोड़ने पर यह टी प्वाइंट बनेगा। यह फ्लाईओवर रेलवे क्रासिंग के ऊपर से रहेगा। ऐसे में मनीष नगर की दिशा से आने वाले वाहनधारकों को रेलवे क्रासिंग पर बिना रुके सीधे नेशनल हाईवे से जोड़ा जाने वाला है। वही यहां स्थानीय लोगों को भी परेशानी से मुक्त करने के लिए अंडरब्रिज का निर्माण किया जाएगा। जिससे यहां लोगों को होने वाली परेशानियों से छुटकारा मिल सकेगा।

डबल डेकर का काम होगा
अखिलेश हलवे, डीजीएम, महा मेट्रो के मुताबिक 165 करोड़ रुपए की राशि मिली है। इससे दिसंबर के आखिर तक डबल डेकर का काम पूरा किया जानेवाला है। वहीं मनीषनगर रेलवे क्रासिंग से भी आरयूबी व आरओबी बनाया जाने वाला है।