दैनिक भास्कर हिंदी: बलात्कारियों को जल्द फांसी देने आंध्रप्रदेश पैटर्न का अध्ययन करेगी महाराष्ट्र सरकार

December 16th, 2019

डिजिटल डेस्क, नागपुर। महिलाओं के खिलाफ बढ़ते अपराधों पर अंकुश लगाने के लिए महाराष्ट्र सरकार आंध्रप्रदेश पैटर्न का अध्ययन करना चाहती है जिससे दोषियों को कम से कम समय में फांसी पर लटकाया जा सके।इसके लिए मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने मुख्य सचिव अजोय मेहता को निर्देश दिया है कि आंध्र प्रदेश सरकार द्वारा हाल ही में बनाएं कानून का अध्ययन कर विस्तृत जानकारी दें। गौरतलब है कि आंध्र प्रदेश विधानसभा ने 13 दिसंबर को आंध्र प्रदेश दिशा विधेयक 2019 (आंध्र प्रदेश आपराधिक क़ानून (संशोधन) अधिनियम 2019) पारित किया है। इसमें महिलाओं के खिलाफ अपराध से जुड़े मामलों का निपटारा 21 दिन के भीतर करने का नियम है और इस कानून के तहत दोषी को कम से कम समय मे फांसी की सजा का भी प्रावधान है।

इस प्रस्तावित कानून का नाम ‘आंध्र प्रदेश दिशा अधिनियम आपराधिक कानून (आंध्र प्रदेश संशोधन) अधिनियम, 2019’ रखा गया है। इसको लेकर शिवसेना विधायक प्रताप सरनाईक विधानसभा के नागपुर सत्र में अशासकीय विधेयक पेश करने वाले हैं। इस सबंध में  सरनाईक ने सोमवार को विधानसभा सचिव को पत्र भी दे दिया है। सरनाईक ने बताया कि महिलाओं के खिलाफ अत्याचार के मामलों की पूरी जांच पुलिस 7  दिन में पूरी करें और कोर्ट 14 दिन में अपनी प्रक्रिया पूरी कर ले। अधिक से अधिक 21 दिन में सजा सुनाई जाए। इससे अपराधियों में डर पैदा होगा और महिलाओं के खिलाफ हो रहे अत्याचारों पर रोक लगाई जा सकेगी। प्रताप सरनाईक ने बताया कि, उन्होंने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से खुद बात की। मुख्यमंत्री ने मुख्य सचिव को आदेश दिया कि आंध्र प्रदेश में बनाए गए कानून का अध्ययन करें, ताकि वैसा की ठोस कानून महाराष्ट्र में बनाया जा सके।

 


 

खबरें और भी हैं...