उपलब्धि: महाराष्ट्र के भोर ने प्लास्टिक कचरा प्रबंध में मिसाल कायम की

February 7th, 2022

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। केन्द्र सरकार ने महाराष्ट्र के पुणे जिले के भोर प्रखंड की सासेवाडी ग्राम पंचायत की उसके द्वारा प्लास्टिक कचरे को खत्म करने की दिशा में किए गए कार्य की प्रशंसा की है। जल शक्ति मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत ने कहा है कि सासेवाडी ग्राम पंचायत ने प्लास्टिक कचरा प्रबंधन के लिए अभिनव, सस्ती और संकुल स्तरीय प्रणाली के जरिए स्वच्छता हासिल करने में एक स्वस्थ मिसाल कायम की है। जल शक्ति मंत्रालय के बयान के मुताबिक देश में बढ़ते प्लास्टिक कचरे और उसकी चुनौतियों को देखते हुये स्वच्छ भारत मिशन-ग्रामीण के दूसरे चरण की परियोजना के तहत पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर पुणे जिले की ग्राम पंचायात सासेबाडी, शिन्देवाडी, वेलु और कसूरदी को चुना गया था। इन चारों ग्राम पंचायतों के अधीन आने वाले इलाके में कई चोटे उद्योग चलते है। खुले में शौच से मुक्त दर्जे के आगे की हैसियत प्राप्त करने के लिये प्लास्टिक कचरे के निपटान के लिए भोर के प्रखंड विकास अधिकारी (बीडीओ) वीजी तानपुरे ने मुंबई-बेंगलुरु राजमार्ग पर पुणे के निकट स्थित गांवों के लिये एक संकुल स्तरीय प्लास्टिक कचरा प्रबंधन प्रणाली की योजना बनाई और एक नियुक्त कंपनी ने गांवों के एक किलोमीटर दायरे में एक संयंत्र स्थापित किया। इस संयंत्र में आसानी से कचरा पहुंचाया जाने लगा। कचरा पहुंचाने के काम का खर्च भी कम रखा गया।
 

खबरें और भी हैं...