comScore

निर्माण कार्य की सामग्री सड़क पर बखरी,  7 हजार लोगों से वसूला सवा करोड़ जुर्माना

निर्माण कार्य की सामग्री सड़क पर बखरी,  7 हजार लोगों से वसूला सवा करोड़ जुर्माना

डिजिटल डेस्क, नागपुर। शहर में पूरे साल निर्माण कार्य के साथ ही आम नागरिकों द्वारा बांधकाम आदि किए जाते हैं। ऐसे में सार्वजनिक स्थानों जैसे सड़क, फुटपाथ, खुली जगह आदि स्थानों पर निर्माण कार्य सामग्री बिना अनुमति रखना आम लोगों के लिए भारी पड़ रहा है। शहरभर में ऐसे लोगों को नोटिस देकर सामान हटाने के लिए 48 घंटे का समय दिया गया, लेकिन उसके बाद भी सामान नहीं उठाने वाले 7051 लोगों पर न्यूसेंस स्क्वॉड द्वारा कार्रवाई की गई। इसके तहत दो साल में सवा करोड़ रुपए जुर्माना वसूली की गई है। सबसे अधिक आशीनगर जोन में 1119 लोगों पर कार्रवाई की गई । ये वे मामले हैं जिसमें लोगों ने निर्माण कार्य के लिए सामग्री लाकर रोड किनारे डाल तो दििया लेकिन इस सामग्री को नोटिस मिलने के बाद भी उठाने का नाम नहीं लिया। मनपा ने इन लोगों के खिलाफ सख्त कदम उठाते हुए कार्रवाई की है।

मनपा आयुक्त के नेतृत्व में काम करता है स्क्वॉड
स्मार्ट सिटी में कचरा फैलाने और गंदा करने वाले लोगों पर कार्रवाई के लए 11 दिसंबर 2017 को स्क्वॉड गठित किया गया था। 10 दिसंबर 2019 अर्थात करीब 2 साल में स्क्वॉड ने 7 हजार 51 लोगों पर कार्रवाई की। इसमें 129 बिल्डर्स और 6930 लोग शामिल हैं। नियमों का उल्लंघन करने वालों लोगों से 1 करोड़ 17 लाख 42 हजार और बिल्डर्स से 8 लाख 29 हजार रुपए, ऐसे कुल  1 करोड़ 25 लाख 71 हजार रुपए जुर्माने की राशि वसूली गई है। न्यूसेंस स्क्वॉड मनपा आयुक्त अभिजीत बांगर, अतिरिक्त आयुक्त राम जोशी के नेतृत्व में काम करता है, जिसके प्रमुख वीरसेन तांबे हैं।

जोन     व्यक्ति     बिल्डर्स     कुल
लक्ष्मी नगर    624    37    661
धरमपेठ    874    11    885
हनुमान नगर    574    8    582
धंतोली    559    26    585
नेहरू नगर    758    3    761
गांधीबाग    300    1    301
सतरंजीपुरा    961    6    967
लकड़गंज    638    5    643
आशीनगर    1114    5    1119
मंगलवारी    528    27    555 
कुल     6930    129    7059

कमेंट करें
ofvPx
NEXT STORY

Paytm Money: अब पेटीएम मनी ऐप से हर कोई कर सकता है स्टॉक मार्किट में  निवेश, कंपनी का 10 लाख निवेशकों को जोड़ने का लक्ष्य

Paytm Money: अब पेटीएम मनी ऐप से हर कोई कर सकता है स्टॉक मार्किट में  निवेश, कंपनी का 10 लाख निवेशकों को जोड़ने का लक्ष्य

डिजिटल डेस्क, दिल्ली। भारत के घरेलु वित्तीय सेवा प्रदाता पेटीएम ने आज घोषणा की है कि इसकी पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी पेटीएम मनी ने देश में सभी के लिए स्टॉकब्रोकिंग की सुविधा शुरू कर दी है। कंपनी का लक्ष्य इस वित्त वर्ष में 10 लाख से अधिक निवेशकों को जोड़ना है, जिसमें अधिकतर छोटे शहरों और कस्बों से आने वाले फर्स्ट टाइम यूजर्स होंगे। इस प्रयास का उद्देश्य उत्पाद के आसान उपयोग, कम मूल्य निर्धारण (डिलीवरी ऑर्डर पर जीरो ब्रोकरेज, इंट्राडे के लिए 10 रुपये) और डिजिटल केवाईसी के साथ पेपरलेस खाता खोलने के साथ निवेश को प्रोत्साहित करना तथा अधिक-से-अधिक लोगों तक पहुंचना है। कंपनी भारत में सबसे व्यापक ऑनलाइन वेल्थ मैनेजमेंट प्लेटफार्म बनने के लिए प्रयासरत है, जो वित्तीय समावेशन के लक्ष्य के तहत आम लोगों तक आसानी से पहुंच सके।

पेटीएम मनी को अपने शुरुआती प्रयास में ही लोगों से भारी प्रतिक्रिया मिली और उसने 2.2 लाख से अधिक निवेशकों को अपने साथ जोड़ लिया। इनमें से, 65% उपयोगकर्ता 18 से 30 वर्ष के आयु वर्ग में हैं, जो दर्शाता है कि नई पीढ़ी अपनी वेल्थ पोर्टफोलियो का निर्माण कर रही है। टियर-1 शहरों जैसे मुंबई, बैंगलोर, हैदराबाद, जयपुर और अहमदाबाद में इस प्लेटफार्म को बड़े स्तर पर अपनाया गया है। ठाणे, गुंटूर, बर्धमान, कृष्णा, और आगरा जैसे छोटे शहरों में भी लोगों का भारी झुकाव देखने को मिला है। यह सेवा सुपर-फास्ट लोडिंग स्टॉक चार्ट्स, ट्रैक मार्केट मूवर्स एंड कंपनी फंडामेंटल्स सुविधाओं के साथ अब आईओएस, एंड्रॉइड और वेब पर उपलब्ध है। पेटीएम मनी ऐप शेयरों पर निवेश, व्यापार और सर्च के लिए प्राइस अलर्ट और एसआईपी सेट करने के लिए आसान इंटरफ़ेस प्रदान करता है।

इस अवसर पर पेटीएम मनी के सीईओ, वरुण श्रीधर ने कहा, "हमारा उद्देश्य वेल्थ मैनेजमेंट सेवाओं को आबादी के बड़े हिस्से तक पहुंचाना है, जो आत्मानिर्भर भारत के लक्ष्य में योगदान करेगी। हमारा मानना है कि यह मिलेनियल और नए निवेशकों को उनके वेल्थ पोर्टफोलियो के निर्माण में सक्षम बनाने का समय है। प्रौद्योगिकी पर आधारित हमारे समाधान शेयर में निवेश को सरल और आसान बनाता है। हम वर्तमान उत्पादों को चुनौती देते रहेंगे और भारत के सर्वश्रेष्ठ उत्पाद का निर्माण करते रहेंगे। हम पेटीएम मनी को सभी भारतीय के लिए एक व्यापक वेल्थ मैनेजमेंट प्लेटफार्म बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं। "

इतने कम समय में पेटीएम मनी पर स्टॉक ट्रेडिंग को व्यापक रूप से अपनाया जाना काफी महत्व रखता है। यह हर भारतीय के लिए डिजिटल निवेश को आसान बनाने के कंपनी के प्रयासों की सराहना को भी दर्शाता है। शेयरों में आसान निवेश के साथ, प्लेटफॉर्म उपयोगकर्ता को बाजार के बारे में शोध करने, मार्केट मूवर्स का पता लगाने, अनुकूल वॉचलिस्ट तैयार करने और 50 से अधिक शेयरों के लिए प्राइस अलर्ट सेट करने के अवसर प्रदान करता है। इसके अलावा, उपयोगकर्ता स्टॉक के लिए साप्ताहिक / मासिक एसआईपी सेट कर सकते हैं, और स्टॉक में निवेश को आॅटोमेट कर सकते हैं। बिल्ट-इन ब्रोकरेज कैलकुलेटर के साथ, निवेशक लेनदेन शुल्क का पता लगा सकते हैं और शेयरों को लाभ पर बेचने के लिए ब्रेक-इवेन प्राइस जान सकते हैं। इसके अलावा, स्टॉक ट्रेडिंग के अनुभव को और बेहतर बनाने के लिए एडवांस्ड चार्ट और अन्य विकल्प जैसे कवर चार्ट तथा ब्रैकेट ऑर्डर भी जोड़े गए हैं। इन सुविधाओं के अलावा बैंक-स्तरीय सुरक्षा के साथ निवेशकों के व्यक्तिगत डेटा को सुरक्षित रखते हुए अन्य सुविधाएं भी उपलब्ध होंगी।


पेटीएम मनी के बारे में
पेटीएम मनी वन97 कम्युनिकेशंस की पूर्ण स्वामित्व वाली एक सहायक कंपनी है। वन97 कम्युनिकेशंस भारत की घरेलू वित्तीय सेवा प्रदाता पेटीएम का स्वामित्व भी रखता है। यह देश का सबसे बड़ा ऑनलाइन इंवेस्टमेंट प्लेटफार्म है, और अब इसने उपयोगकर्ताओं के लिए डायरेक्ट म्यूचुअल फंड्स और एनपीएस के अपने वर्तमान आॅफर में स्टॉक्स को भी जोड़ दिया है। पेटीएम मनी का लक्ष्य एक पूर्ण-स्टैक इंवेस्टमेंट और वेल्थ मैनेजमेंट प्लेटफार्म बनना और लाखों भारतीयों तक धन सृजन के अवसरों को पहुंचाना है। बेंगलुरु स्थित मुख्यालय से संचालित इस कंपनी की टीम में 300 से अधिक सदस्य हैं।