दैनिक भास्कर हिंदी: विधायक पडलकर ने पवार को कहा कोरोना, भड़के एनसीपी नेता, भाजपा ने भी किया किनारा  

June 24th, 2020

डिजिटल डेस्क, मुंबई। भाजपा विधायक गोपीचंद पडलकर ने राकांपा अध्यक्ष शरद पवार पर विवादित टिप्पणी की है। उन्होंने कहा कि शरद पवार कोरोना हैं। जिन्होंने महाराष्ट्र को संक्रमित कर दिया है। पडलकर के इस बयान पर राकांपा ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। वहीं पडलकर के बयान को लेकर भाजपा ने किनारा कर लिया है। बुधवार को राकांपा नेता व प्रदेश के गृहनिर्माण मंत्री जितेंद्र आव्हाड ने कहा कि पडलकर की पवार पर बोलने की औकात नहीं है। पडलकर ने पवार के खिलाफ जिस भाषा का इस्तेमाल किया है, उसकी मैं कड़े शब्दों में निंदा करता हूं। पडलकर को इसके परिणाम भुगतने पड़ेंगे। आव्हाड ने कहा कि पडलकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को गाली दे रहे थे, फिर उन्होंने मोदी की पार्टी भाजपा से विधान परिषद का टिकट लिया। राकांपा विधायक अमोल मिटकरी ने कहा कि पडलकर को अपने बयान पर माफी मांगनी चाहिए। वह जिस दल भाजपा के विधायक हैं उस दल के नेता तथा प्रधानमंत्री मोदी पवार को अपना आदर्श मानते हैं। 

पड़लकर कीड़ाः तपासे

राकांपा के प्रदेश प्रवक्ता महेश तपासे ने कहा कि पडलकर सड़ी मानसिकता के कीड़ा हैं। विधानसभा में विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि पवार हमारे राजनीतिक विरोधी हैं। वह हमारे शत्रु नहीं हैं। पवार ही नहीं बल्कि किसी भी वरिष्ठ नेता के बारे में इस तरह की टिप्पणी उचित नहीं है। फडणवीस ने कहा कि पडलकर ने भावनाओं में बहकर टिप्पणी की है। इस बारे में पडलकर उचित स्पष्टीकरण देंगे। विधान परिषद में विपक्ष के नेता प्रवीण दरेकर ने कहा कि भाजपा ने पडलकर को इस तरीके का बयान देने के लिए नहीं कहा था। उनका बयान भाजपा की भूमिका नहीं है। इससे पहले पडलकर ने कहा कि पिछले कई सालों से पवार राज्य का नेतृत्व कर रहे हैं लेकिन उनकी भूमिका हमेशा बहुजन समाज पर अन्याय करने की रही है। साल 2019 के विधानसभा चुनाव से पहले पडलकर वंचित बहुजन आघाडी छोड़कर भाजपा में शामिल हुए थे। भाजपा ने पडलकर को बारामती सीट से अजित पवार के खिलाफ उतारा था। विधानसभा चुनाव में पडलकर जमानत नहीं बचा पाए थे। जिसके बाद भाजपा ने पडलकर को विधान परिषद में भेजने का फैसला किया।