comScore

अगला कदम ‘कागज नहीं दिखाएंगे’, हिंदू-मुस्लिम को बांटना चाहते थे मोदी, लेकिन अब सभी एक हो गए - आजमी

अगला कदम ‘कागज नहीं दिखाएंगे’, हिंदू-मुस्लिम को बांटना चाहते थे मोदी, लेकिन अब सभी एक हो गए - आजमी

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  मोदी सरकार की तुलना अंग्रेजी हुकूमत से करते हुए समाजवादी पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष व विधायक अब्बू आसिम आजमी ने कहा कि जिस तरह महात्मा गांधी ने अंग्रेजी हुकूमत के खिलाफ असहयोग आंदोलन छेड़ा था, उसी तरह अब सीएए-एनआरसी के खिलाफ ‘असहयोग आंंदोलन’ की तैयारी है। सड़कों पर उतरने के बावजूद सरकार नहीं मानती है, तो असहयोग आंदोलन शुरू कर ‘कागज नहीं दिखाएंगे’ का नारा दिया जाएगा। मोदी सरकार का आभार जताते हुए आजमी ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने सोते हुए लोगों को जगा दिया है। मोदी चाहते थे कि हिंदू और मुस्लिम बंट जाएंगे, लेकिन अब सब एक हो गए और सड़कों पर उतर गए हैं। सीएए-एनआरसी के खिलाफ  नागपुर के संविधान चौक से आंदोलन शुरू हुआ। जो नागपुर से शुरू होकर पूरे विदर्भ में होगा। नंदूरबार में इसका समापन होगा। इसके लिए श्री आजमी नागपुर पहुंचे थे। 

दैनिक भास्कर से रविभवन में बातचीत करते हुए सपा विधायक अब्बू आसिम आजमी ने कहा कि यह आरएसएस का एजेंडा है। ऊपर से मुस्लिम टारगेट नजर आ रहा है, लेकिन एससी, एसटी और ओबीसी सभी इसमें टारगेट हैं। इसके बाद अगला कदम आरक्षण को खत्म करना होगा। पिछले दिनों संघ प्रमुख मोहन भागवत अपने भाषण में संकेत भी दे चुके हैं। सरकार से सवाल करते हुए आजमी ने कहा कि अगर कोई साबित नहीं कर पाया कि वह भारतीय है, तो उन्हें किस देश में भेज जाएगा। क्या पाकिस्तान, बांग्लादेश या अफगानिस्तान में भेजा जाएगा। अगर दूसरे देशों से अन्य लोगों का स्वागत किया जा रहा है, तो फिर मुस्लिम का क्यों नहीं? वे भी वहां पीड़ित हो सकते हैं।

उन्होंने कहा कि सूचना के अधिकार (आरटीआई) में भी नियम है कि आप 25 साल पुराना दस्तावेज नहीं मांग सकते। फिर लोगों से इतने पुराने कागजात कैसे मांगे जा रहे हैं। यह सरकार की जिम्मेदारी है कि वह लोगों को कागजात उपलब्ध कराए। सरकार देश का ताना-बाना खराब कर रही है। प्रधानमंत्री मोदी द्वारा दिल्ली की सभा एनआरसी पर चर्चा नहीं होने के दावे पर विधायक आजमी ने कहा कि प्रधानमंत्री झूठ बोल रहे हैं। गृहमंत्री अमित शाह कुछ बोलते हैं और प्रधानमंत्री कुछ। इस अवसर पर सपा के शहर उपाध्यक्ष शान खान उपस्थित थे।

जीडीपी में पाकिस्तान और बांग्लादेश हमसे आगे
देश की अर्थव्यवस्था पाकिस्तान, बांग्लादेश से पीछे चली गई है। जीडीपी में पाकिस्तान, बांग्लादेश हमसे आगे हैं। सरकार को इस पर ध्यान देना चाहिए। लेकिन वह देश की जनता को हिंदुत्व के नाम पर मुर्ख बना रही है। सरकार से रेलवे, एयर इंडिया जैसे सरकारी संस्थान संभल नहीं रहे हैं। वे इसे बेचने की तैयारी में है। सरकार का काम लाभ कमाना नहीं है, बल्कि सेवा देना है।  

 
 

कमेंट करें
og8nX