comScore

इस साल मानसून मेहरबान, पिछले वर्ष के मुकाबले 5.89 प्रतिशत ज्यादा बारिश

इस साल मानसून मेहरबान, पिछले वर्ष के मुकाबले 5.89 प्रतिशत ज्यादा बारिश

डिजिटल डेस्क, मुंबई। प्रदेश में इस साल मानसून मेहरबान नजर आ रहा है। राज्य भर में अभी तक पिछले साल के मुकाबले 5.89 प्रतिशत ज्यादा बारिश हुई है। राज्य में 1 जून से 27 जुलाई के बीच 490.9 मिमी बरसात हुई है यानी औसत की 99.01 प्रतिशत बारिश हुई थी। पिछले साल 27 जुलाई 2019 तक 461.7 मिमी यानी औसत की 93.12 वर्षा हुई थी। बुधवार को राज्य सरकार के कृषि विभाग से मिली जानकारी के अनुसार राज्य के 16 जिलों में 100 प्रतिशत से अधिक बारिश हुई थी। इसमें यवतमाल, अमरावती, वाशिम, बुलढाणा, सिंधुदुर्ग, धुलिया, जलगांव, अहमदनगर, सोलापुर, सांगली, औरंगाबाद, जालना, बीड़, लातूर, हिंगोली और परभणी का समावेश है। 

नागपुर, गोंदिया, चंद्रपुर सहित 10 जिलों में 75 फीसदी वर्षा 

10 जिलों में 75 से 100 प्रतिशत के बीच वर्षा हुई है। इसमें नागपुर, अकोला, वर्धा, भंडारा, गोंदिया, चंद्रपुर, नांदेड़, रत्नागिरी, नाशिक, उस्मानाबाद जिले शामिल हैं। 8 जिलों में 25 से 50 प्रतिशत तक बारिश हुई है। इनमें गडचिरोली, कोल्हापुर, सातारा, पुणे, नंदूरबार, पालघर, ठाणे और रायगड़ जिले शामिल हैं। 

तहसीलवार बारिश की स्थिति 

राज्य की 355 तहसीलों में से 198 तहसीलों में 100 से अधिक बारिश हुई है। 19 तहसीलों में 25 से 50 प्रतिशत बारिश हुई है। 55 तहसीलों में 50 से 75 प्रतिशत वर्षा हुई है। 83 तहसीलों में 75 से 100 प्रतिशत बारिश हुई है।  

जलाशयों में 5.75 प्रतिशत अधिक पानी

राज्य के 3267 जलाशयों में 38.22 प्रतिशत पानी उपलब्ध है। पिछले साल इस दौरान 32.47 प्रतिशत जलसंचय था। यानी बीते साल की तुलना में 5.75 प्रतिशत अधिक पानी है। बुधवार को जलाशयों में 22705.69 दलघमी (दस लाख घन मीटर) पानी उपलब्ध रहा। जलसंसाधन विभाग के अनुसार औरंगाबाद के जायकवाड़ी जलाशय में 46.10 प्रतिशत, परभणी के पूर्णा येलदरी में 76.82 प्रतिशत, बीड़ के माजलगाव में 53.72 प्रतिशत जलभंडारण है। नागपुर के पेंच तोतलाडोह जलाशय में 81.80 प्रतिशत, भंडारा के गोसीखुर्द जलाशय में 49.79 प्रतिशत, गोंदिया के इटियाडोह जलाशय में 27.57 प्रतिशत और गोंदिया के बाघ-शिरपुर जलाशय में 23.46 प्रतिशत पानी है। 
 

कमेंट करें
D1Skm