दैनिक भास्कर हिंदी: मानसून पूर्व की हलचलें हुईं तेज ,जब-तब बरस रहे बादल

June 6th, 2018

डिजिटल डेस्क, नागपुर। उपराजधानी सहित विदर्भ में मानसून पूर्व की हलचलें बढ़ गईं हैं। आसमान मेघों से आच्छादित है, इससे नमी बढ़ी है। सुबह से गर्म होकर ऊपर उठी गर्म हवा नमी को पिघला रही है। इससे तेज आंधी के साथ बादलों का जब-तब बरसना जारी है।  तेज हवाओं के साथ बादल शहर के कई हिस्सों में बरस रहे हैं। हालांकि वर्धा रोड व विमानतल के आस-पास वर्षा कम रही। मौसम विभाग के वर्षा मापी ने मंगलवार सुबह 8:30 बजे  तक मात्र 2.3 मिमी वर्षा दर्ज की।

विदर्भ में कई स्थानों पर वर्षा 
विदर्भ में कई स्थानों पर वर्षा दर्ज की गई है। इसके चलते तापमान में भी गिरावट रही। हालांकि नमी की अधिकता के चलते उमस ने पूरे दिन लोगों को परेशान रखा। मौसम विभाग के अनुसार, मानसून सक्रिय बना हुआ है और इसके आंध्र प्रदेश, रायलसीमा कर्नाटक के अंदरूनी हिस्सों में पहुंचने के आसार हैं। बंगाल की खाड़ी में बन रहा कम दबाव का क्षेत्र इसे और मजबूती देगा। उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, बिहार, छत्तीसगढ़ व बंगाल की खाड़ी में अलग-अलग चक्रवाती चक्र बने हुए हैं। इनसे भी नमी का प्रवेश विदर्भ की ओर हो रहा है। यह सब मानसून की दस्तक के लिए अनुकूल परिस्थितियां निर्मित कर रहे हैं।

तापमान घटा, उमस ने बढ़ाई परेशानी
बुधवार को सुबह से बादलों का आना जाना लगा रहा। इस बीच उमस से लोग हलाकान भी जरूर हो रहे हैं। अनुमान है कि उत्तरीय बंगाल की खाड़ी में कम दबाव का क्षेत्र बनने के बाद मानसून के लिए परिस्थितियां और अनुकूल होंगी और मानसून विदर्भ में दस्तक दे देगा। मौसम विभाग के अनुसार, मंगलवार को अधिकतम व न्यूनतम तापमान में गिरावट दर्ज की गई। अधिकतम तापमान 40.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जो सामान्य से 1 डिग्री नीचे रहा। न्यूनतम तापमान सामान्य से 5 डिग्री नीचे 23.7 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। आर्द्रता सुबह 61 प्रतिशत रही, जो शाम बढ़ कर 67 प्रतिशत तक पहुंच गई।