comScore

राज्य में 10 लाख से ज्यादा लोग कर चुके हैं ऑनलाइन शराब की खरीदारी

राज्य में 10 लाख से ज्यादा लोग कर चुके हैं ऑनलाइन शराब की खरीदारी

डिजिटल डेस्क, मुंबई। राज्य में इजाजत दिए जाने के बाद 10 लाख से ज्यादा लोग शराब की ऑनलाइन खरीदारी कर चुके हैं। सिर्फ शनिवार को ही राज्य में करीब 62 हजार ग्राहकों ने अपने घर पर शराब मंगाई। इनमें 36 हजार से ज्यादा ग्राहक मुंबई शहर और उपनगर के थे। लॉकडाउन के चलते बंद शराब की दुकानें जब कुछ दिनों पहले खुली, तो उनके सामने लोगों की भारी भीड़ लग गई।कोरोना संक्रमण फैलने के डर से दुकानों को बंद करा दिया गया और आर्थिक तंगी से जूझ रही सरकार ने शराब बेचने का नया तरीका निकाला। 15 मई से शराब की ऑनलाइन बिक्री की इजाजत दे दी गई। राज्य उत्पादन शुल्क द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक 15 मई से 6 जून तक 10 लाख 9 हजार 679 ग्राहकों ने ऑनलाइन शराब की खरीदारी की। शनिवार को ही राज्य भर में 61817 ग्राहकों ने ऑनलाइन शराब की खरीदारी की जिनमें से 36518 ग्राहक मुंबई और उपनगरों के थे।  इसके अलावा शराब के सेवन के लिए जरूरी लाइसेंस भी ऑनलाइन हासिल करने की प्रक्रिया में तेजी आई है। सिर्फ मई महीने में राज्य में 1 लाख 20 हजार 547 लोगों ने लाइसेंस के लिए आवेदन किया। इनमें से 1 लाख 10 हजार 763 लोगों को  शराब पीने के लाइसेंस जारी किए जा चुके हैं। इसके अलावा राज्य उत्पादन शुल्क  के दफ्तरों से भी लाइसेंस हासिल किए जा सकते हैं। 1 साल तक शराब पीने के लिए लाइसेंस शुल्क सौ रुपए जबकि आजीवन एक हजार रुपए हैं। फिलहाल राज्य में सूखे जिलों गडचिरोली, चंद्रपुर, वर्धा के अलावा सोलापुर में फिलहाल शराब बिक्री की इजाजत नही है जबकि राज्य के 32 जिलों में अब शराब की बिक्री शुरू हो गई है।

लॉकडाउन में पकड़ी गई 18 करोड़ की शराब

राज्य उत्पादन शुल्क विभाग ने 24 मार्च से 5 जून तक अवैध शराब तस्करी के 7370 मामले पकड़े हैं। जिनमें 3409 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। शराब तस्करी कि इन मामलों में 7370 एफआईआर दर्ज की गई जबकि 18 करोड़ 81 लाख रुपए की शराब जप्त की गई है।  

कमेंट करें
RgcDP