comScore

 खवासा के क्वारेंटाइन सेंटर से भागे दो दर्जन से ज्यादा लोग

 खवासा के क्वारेंटाइन सेंटर से भागे दो दर्जन से ज्यादा लोग

डिजिटल डेस्क सिवनी । महाराष्ट्र से लगे खवासा बॉर्डर पर सोमवार से प्रारंभ हुए क्वारेंटाइन सेंटर लाए गए दो दर्जन से ज्यादा लोग भाग गए। घटना से मचे हड़कंप के बीच कुरई पुलिस व शासकीय अमले ने सेंटर से लगे जंगल में उनकी तलाश शुरु की। दो घंटे की मशक्कत के बाद उन्हें पकड़कर वापस सेंटर लाया गया।  जानकारी के अनुसार, सोमवार से ही जिले में प्रवेश करने वाले हर व्यक्ति को 14 दिन तक क्वारेंटाइन सेंटर में रखने की प्रक्रिया शुरु की गई है। इसके लिए सिवनी, लखनादौन व खवासा के जनचेतना केन्द्र को क्वारेंटाइन सेंटर बनाया गया है। नागपुर की ओर से पैदल आ रहे मजदूरों को क्वारेंटाइन सेंटर तक ले जाने के लिए पुलिस व प्रशासनिक अमले को लगाया गया था। सेंटर तक लाए गए लोगों में से दो दर्जन से ज्यादा लोग मौका देखकर जंगल में भाग गए। इसके बाद पुलिस ने उनकी तलाश शुरु की। दो घंटे बाद सभी लोगों को जंगल से पकड़ा गया। इस घटना ने कई सवाल खड़े कर दिए हैं। क्वारेंटाइन सेंटर पर ड्यूटी पर लगाए गए अमले को इसके लिए जिम्मेदार माना जा रहा है।
इनका कहना है
जिले के बाहर से आने वाले लोगों के लिए तीन क्वारेंटाइन सेंटर बनाए गए हैं। इसे लेकर अधिकारियों को जिम्मेदारी सौंपी गई है। खवासा मामले की जानकारी अधिकारियों से ली जा रही है। 
- प्रवीण सिंह, कलेक्टर, सिवनी
खवासा क्वारेंटाइन सेंटर लाए गए लगभग दो दर्जन लोग मौका देखकर जंगल में भाग गए थे। तलाश कर सबको वापस लाया गया। 
- कामेश्वर चौबे, एसडीएम, कुरई

कमेंट करें
yX58V