दैनिक भास्कर हिंदी: मुंबई : विदेशी साइबर हमले से हुई थी बत्ती गुल, ऊर्जा मंत्री को सौंपी गई जांच रिपोर्ट

March 1st, 2021

डिजिटल डेस्क, मुंबई। 12 अक्टूबर को बिजली गुल होने के मामले में साइबर हमले की आशंका है। इस मामले में राज्य सरकार को प्राथमिक रिपोर्ट मिली है, उसमें भी इसी ओर इशारा किया गया है। गृहमंत्री अनिल देशमुख ने सोमवार को मीडिया से बातचीत में यह जानकारी दी। महाराष्ट्र साइबर क्राइम ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि 14 ट्रोजन हार्सेस मालवेयर सिस्टम में डालने के सबूत मिले हैं। साथ ही 8 जीबी डाटा विदेश सर्वर से एमएसईबी के सर्वर में डाले जाने की आशंका है। ब्लैक लिस्टेड आईपी के जरिए एमएसईबी के सर्वर में लॉग इन की कोशिश करने के भी सबूत मिले हैं। इस जांच से जुड़ी रिपोर्ट देशमुख ने ऊर्जामंत्री नितिन राऊत को सौंपी। देशमुख ने कहा कि 12 अक्टूबर को बिजली फेल होने के चलते मुंबई लकवाग्रस्त हो गई थी। लोकल ट्रेन, स्टाप मार्केट, अस्पताल के साथ सामान्य जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हुई थी। 28 फरवरी को अमेरिकी कंपनी रिकॉर्डेड फ्यूचर नेटवर्क एनालिसिस कंपनी की रिपोर्ट सामने आई थी। इस रिपोर्ट में चीन के हैकरों द्वारा मुंबई के बिजली वितरण व्यवस्था में मालवेयर डालने की आशंका जताई गई है। न्यूयार्क टाइम्स और वॉलस्ट्रीट जनरल नाम के अमेरिकी अखबारों ने भी यह खबर छापी है। महाराष्ट्र साइबर पुलिस के साथ विशेषज्ञों की टीम की जांच में भी साइबर हमले की ही आशंका सामने आई है। देशमुख ने कहा फिलहाल विधानमंडल का अधिवेशन चल रहा है और इस मामले में विस्तृत रिपोर्ट सदन में पेश किया जाएगा। बता दें कि साइबर हमले के बाद मुंबई के ज्यादातर इलाकों में 8 से 12 घंटे तक बिजली गुल रही थी।  
 

खबरें और भी हैं...