दैनिक भास्कर हिंदी: इस्तीफा देने वाले चारो विधायक बने भाजपाई, पूर्व आईपीएस अधिकारी पाटील भी शामिल

July 31st, 2019

डिजिटल डेस्क, मुंबई। विधानसभा चुनाव से पहले सत्ताधारी भाजपा ने विपक्षी दल कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस को झटका देने की शुरुआत कर दी है। बुधवार को राष्ट्रवादी कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व पूर्व मंत्री मुधकराव पिचड और उनके बेटे व अहमदनगर की अकोले सीट से राष्ट्रवादी कांग्रेस के विधायक वैभव पिचड़, सातारा सीट से राष्ट्रवादी कांग्रेस के विधायक शिवेंद्रसिंह भोसले, नई मुंबई की एरोली सीट से राष्ट्रवादी कांग्रेस के विधायक संदीप नाईक, मुंबई की वडाला सीट से कांग्रेस विधायक कालीदास कोलंबकर और राष्ट्रवादी महिला कांग्रेस की पूर्व प्रदेश अध्यक्ष चित्रा वाघ, अहमदनगर जिला मध्यवर्ती बैंक के अध्यक्ष सीताराम गायकर और पूर्व आईपीएस अधिकारी साहबराव पाटील, राष्ट्रवादी कांग्रेस के नेता व नई मुंबई मनपा के पूर्व महापौर सागर नाईक भाजपा में शामिल हुए।

बुधवार को वानखेड़े स्टेडियम के गरवारे क्लब में मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष चंद्रकांत पाटील समेत भाजपा के कई मंत्रियों की मौजूदगी में कांग्रेस-राकांपा नेताओं और उनके समर्थकों ने भाजपा में प्रवेश किया। महात्मा ज्योतिबा फुले और क्रांति ज्योति सावित्रीबाई फुले के घराने की वशंज नीताताई होले ने भी भाजपा में शामिल हुई। राष्ट्रवादी कांग्रेस के विधायक संदीप नाईक के पार्टी प्रवेश के मौके पर नई मुंबई के बेलापुर सीट से विधायक भाजपा मंदा म्हात्रे मौजूद थीं। म्हात्रे संदीप के पिता गणेश नाईक की धुरविरोधी रही हैं लेकिन मुख्यमंत्री को भाजपा विधायक मंदा म्हात्रे को समझाने में कामयाबी मिल गई है।  सूत्रों के अनुसार संदीप नाईक के भाजपा में आने के बाद राष्ट्रवादी कांग्रेस के वरिष्ठ नेता व पूर्व गणेश नाईक और उनके बड़े बेटे संजीव नाईक और नई मुंबई मनपा के राष्ट्रवादी कांग्रेस के 52 नगरसेवक भी जल्द ही भाजपा में शामिल होंगे। 

राधाकृष्ण विखेपाटील ने दिखाया रास्ता: पिचड

भाजपा में शामिल होने पर पूर्व मंत्री पिचड़ ने कहा कि प्रदेश के गृहनिर्माण मंत्री राधाकृष्ण विखे पाटील ने हम लोगों को रास्ता दिखा दिया है। पिचड ने कहा कि मेरी आयु 79 साल की हो रही है। मुझे मुख्यमंत्री से कुछ नहीं मांगना है। महाराष्ट्र की और अकोले की जनता ने मुझे भरपूर समर्थन दिया है। इसका मुझे संतोष है। मेरी केवल एक ही इच्छा है कि मुख्यमंत्री महाराष्ट्र का विकास करें। देश और महाराष्ट्र जिस ओर जा रहा है उसी ओर हम लोगों ने भी जाने का फैसला किया है। 


पवार ने भी शिवसेना नेताओं को किया था शामिल: पाटील    

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष चंद्रकांत पाटील ने कहा कि राष्ट्रवादी कांग्रेस के अध्यक्ष शरद पवार ने आरोप लगाया है कि विपक्ष के नेताओं को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) और आयकर विभाग (आईटी) का डर दिखाकर भाजपा में शामिल किया जा रहा है। लेकिन मैं उनसे पूछना चाहता हूं कि जब पवार ने शिवसेना से छगन भुजबल और गणेश नाईक को तोड़ा था तब उन्होंने इन नेताओं पर ईडी की जांच शुरू करवाई थी क्या? पाटील ने कहा कि भाजपा में लगातार दूसरे दलों के नेता शामिल हो रहे हैं। ऐसे में मुद्दा उठ रहा है कि पुराने नेताओं का क्या होगा। इस पर मैं कहना चाहता हूं कि राज्य मंत्रिमंडल में 43 में से 30 मंत्री भाजपा के हैं। इसमें गृहनिर्माण मंत्री राधाकृष्ण विखे पाटील को छोड़कर सभी 29 मंत्री भाजपा के पुराने नेता हैं। वहीं विखे पाटील परिवार की तीन पीढ़ी की राजनीति और सामाजिक कार्यों की परंपरा है। पाटील ने कहा कि विपक्षी दलों के नेताओं के भाजपा में शामिल होने से पार्टी के पुराने नेता नाराजगी व्यक्त करते हैं तो उनको समझाने की व्यवस्था भी की जाती है। 

इसी बीच प्रदेश के वित्त मंत्री सुधीर मुनगंटीवार ने कहा कि कांग्रेस विधायक कोलंबकर लगातार मेरे पास आकर अपने भाजपा प्रवेश को लेकर पूछते थे क्योंकि उन्हें दूसरे दल भी अपने पास बुलाकर बंधन (शिवसेना) बांधने का आग्रह कर रहे थे। लेकिन कोलंबकर भाजपा में ही फीट है। मुनगंटीवार ने कहा कि 29 जुलाई को टाइगर डे था। महाराष्ट्र में बाघों की संख्या 190 से बढ़कर चार साल में 312 हो गई है। लेकिन राष्ट्रवादी कांग्रेस की चित्रा वाघ के भाजपा प्रवेश से बाघों की संख्या बढ़कर 313 हो गई है। 

मैं गद्दार नहीं हूं: चित्रा वाघ 

दूसरी ओर भाजपा में शामिल होने के बाद चित्रा वाघ ने कहा कि मैं गद्दार नहीं हूं। मैं राष्ट्रवादी कांग्रेस छोड़कर नहीं भागी हूं। मैंने राष्ट्रवादी कांग्रेस के अध्यक्ष शरद पवार से मिलकर अपनी भूमिका बता दी थी। चित्रा ने कहा कि पवार ने ईडी के डर के बारे में जो बोला है, इस पर मैं कुछ नहीं कहूंगी। मेरे पति राज्य सरकार के स्वास्थ्य विभाग के एक अस्पताल में सरकारी अधिकारी हैं। 5 मार्च 2016 को एसीबी ने ट्रैप लगाया था। उस मौके पर मेरे पति वहां मौजूद नहीं थे। उन्होंने कोई रिश्वत नहीं ली थी। केवल सरकारी अधिकारी होने के कारण उनका नाम आया। मेरे पति के खिलाफ जांच शुरू है इसके बावजूद मैंने अपनी भूमिका नहीं बदली। मैंने आंदोलन और मोर्चा बंद नहीं किया। चित्रा ने कहा कि मैं 20 सालों तक राष्ट्रवादी कांग्रेस में रही। पिछले एक साल से पार्टी के भीतर कुछ बातें हो रही थीं। जिसकी जानकारी मैं पार्टी के शीर्ष नेताओं को दी थी लेकिन उसमें कोई बदलाव होता नजर नहीं आया। इसलिए मुझे भाजपा में प्रवेश करना पड़ा

खबरें और भी हैं...