दैनिक भास्कर हिंदी: नागपुर रेल मंडल का रोबोट उस्ताद अब चला मुंबई, जानिए क्या है कारण

November 18th, 2019

डिजिटल डेस्क, नागपुर। रेलवे के डिब्बों की मरम्मत के लिए मंगाया गए रोबोट ‘उस्ताद’ को ट्रायल के लिए मुंबई भेजा जाएगा। इसका वहां परीक्षण करने के बाद पुन: नागपुर लाया जाएगा। यह रोबोट पीटलाइन पर खड़ी ट्रेनों के नीचे जाकर जांच करता है और फोटो, वीडियो कंट्रोल को भेजता है। इससे डिब्बों में आई खराबी और उसकी मरम्मत की जगह ढूंढ़ने में आसानी होती है। बारिश के दौरान रोबोट में तकनीकी खामी आ गई थी, जिसे अपडेट कर अब वॉटरप्रुफ बनाया गया है।

हाई डेफिनेशन कैमरे और सेंसर से लैस

रेल कर्मचारियों को पहले कारखानों में और पीटलाइन पर खड़ी गाड़ियों की जांच के लिए गड्ढे में उतर कर मरम्मत करनी होती थी। फिर रेलवे ने आधुनिक तकनीक का इस्तेमाल किया और रोबोट की सहायता ली। यह रोबोट कहीं भी आसानी से पहुंच कर उसका वीडियो रिकॉर्ड करता है। फिर इस वीडियो को वाई-फाई के जरिये मोबाइल एप और कंट्रोल सिस्टम को भेजता है, जहां खामियों को देखा जा सकता है। इसके साथ ही ट्रेन के हर हिस्से और हर कोने में यह आसानी से पहुंचकर खामियों को बता सकता है। इससे खराब हिस्से को रिपेयर करने में आसानी होती है। अब इसे अपडेट कर वाॅटरप्रुफ बनाया गया है। इसमें हाई डेफिनेशन के कैमरे, ऑटो मोड, मैनुअल मोड, और सेंसर लगाए गए हैं। यदि इसके मार्ग कोई बाधा आती है तो यह स्वयत: अपना मार्ग बदल सकता है। इस तरह के रोबोट का उपयोग पहली बार नागपुर मंडल में किया गया। इसकी सफलता को देखते हुए मुंबई मंडल भी अपने यहां इसका ट्रायल लेगा और प्रयोग सफल होने पर इस तरह का रोबोट इस्तेमाल करेगा, इसलिए इसे 8-10 दिन के लिए मुंबई भेजा जा रहा है।

8-10 दिन में फिर नागपुर लाएंगे

सहायक वाणिज्य प्रबंधक एस.जी. राव के मुताबिक रोबोट को अगले हफ्ते मुंबई भेजा जाएगा। वहां पर इसका ट्रायल लेकर 8 से 10 दिन फिर से नागपुर ले आएंगे।