दैनिक भास्कर हिंदी: राहत किट के लिए यूनिवर्सिटी को मिल रहे बोगस आवेदन, किया जा रहा ब्लैकलिस्ट

May 4th, 2020

डिजिटल डेस्क, नागपुर। राष्ट्रसंत तुकड़ोजी महाराज विश्वविद्यालय ने लॉकडाउन में फंसे विद्यार्थियों के लिए राहत किट वितरण योजना शुरु कर रखी है। ऑनलाइन आवेदन स्वीकार करके विद्यार्थियों तक राहत किट पहुंचाई जाती है। जिसमें राशन और अन्य उपयोगी वस्तुएं होती हैं। जानकारी के अनुसार विद्यार्थियों का एक तबका ऐसा भी है जो इस अभिनव उपक्रम का गलत फायदा उठाने में लगा है। विवि द्वारा की गई आवेदनों की पड़ताल में सामने आया है कि अनेक विद्यार्थी नाम में आंशिक बदलाव और मोबाईल नंबर बदल बदल कर बार बार आवेदन कर रहे हैं। ऐसे बोगस आवेदनों की संख्या 250 पार कर गई है। ऐसे आवेदकों की पड़ताल करके विवि उन्हें ब्लैकलिस्ट कर रहा है। उल्लेखनीय है कि लॉकडाऊन में लॉकडाऊन के कारण राशन पानी की समस्या से घिरे विद्यार्थियों के लिए राष्ट्रसंत तुकड़ोजी महाराज नागपुर विश्वविद्यालय ने मदद का हाथ बढ़ाया है। अब तक विवि ने करीब 300 विद्यार्थियों को राहत किट प्रदान की है। ये राहत किट शहर के फुटाला, गणेशपेठ, दिघोरी, सुदामपुरी, गोपालनगर, सक्करदरा, जरिपटका और अन्य क्षेत्रों में वितरित की गई है। विवि में पढ़ रहे लेह-लद्दाख और बिहार के विद्यार्थियों को भी मदद की गई है। लेकिन इस प्रयास में कई फर्जी मामले भी सामने आ रहे हैं। हांलाकि अधिकारियों का दावा है कि उन्होंने अब तक किट बड़ी सावधानी से जरुरतमंद विद्यार्थियों तक पहुंचाने का काम किया है। बोगस विद्यार्थियों को पहले की ब्लैकलिस्ट कर दिया गया है।

 

खबरें और भी हैं...