दैनिक भास्कर हिंदी: आज और कल नहीं कर सकेंगे नर्मदा स्नान - कलेक्टर ने लगाई पाबंदी , शनि मंदिर में भी प्रवेश रहेगा बंद

June 20th, 2020

डिजिटल डेस्क जबलपुर । कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने नर्मदा तटों पर पहले से ही भीड़ लगाने पर पाबंदी है। अब लेकिन दो दिनों के लिये नर्मदा के सभी घाटों पर जाने पर भी प्रतिबंध लगा दिया है, इसके साथ ही स्नान पर भी बंदिश लगाई गई है। दो दिनों के लिये पूरी तरह प्रतिबंध लगाते हुए कलेक्टर भरत यादव ने आदेश जारी कर दिया है। उन्होंने 20 और 21 जून को हलहारिणी अमावस्या और सूर्य ग्रहण के कारण शनिवार और रविवार को नर्मदा के सभी घाटों पर जाने पर रोक लगाई है,  इसी तरह शनि मंदिर जाने पर भी पूर्णत: प्रतिबंध लगाया गया है। आदेश में कहा गया है कि जो भी नियम तोड़ते मिले उन पर कार्यवाही की जाये।  गौरतलब है कि ग्रहण के पूर्व एवं ग्रहण के पश्चात खास तौर पर ग्रहण के पश्चात तो नर्मदा स्नान करने वालों की संख्या हजारों में रहती है । किसी भी घाट पर तिल रखने तक की जगह नहीं बजती थी । 
इन घाटों में जाने पर रोक 
 कलेक्टर ने कहा है कि ननि सीमा सहित आसपास के नर्मदा तट के घाट जैसे ग्वारीघाट, उमाघाट, जिलहरीघाट, तिलवाराघाट, कालीघाट, लम्हेटाघाट, भेड़ाघाट, सरस्वतीघाट आदि में शनिवार और रविवार दो दिनों तक कोई भी स्नान करते पाया जायेगा या फिर भीड़ लगी मिलेगी तो उनके खिलाफ पुलिस, निगम के कर्मचारी धारा 188 के तहत कार्यवाही कर सकेंगे। 
लोगों तक पहुँचाएँ सूचना 
नर्मदा तटों पर जो बंदिशें लगाई गई हैं इसकी सूचना लोगों तक पहुँचाई जाये। थाना प्रभारी सहित सभी विभागों के अधिकारी-कर्मचारी अपने स्तर पर इसकी जानकारी लोगों तक पहुँचाएँ, ताकि नियमों का पालन हो सके। 
दीपदान कर रहे और गंदगी फैला रहे
नर्मदा तट पर दीपदान करने और गंदगी फैलाने पर पहले से ही प्रतिबंध लगा हुआ है। इसके बाद भी लोगों में सुधार नहीं हो रहा है। तटों पर भीड़ बढ़ रही है और लोग गंदगी फैला रहे हैं। कोई भी अगर नियमों को नहीं मान रहा है तो पहले उसे टोकें फिर भी नहीं मानता है तो फिर उसकी शिकायत करें, निश्चित तौर पर कार्यवाही होगी।

खबरें और भी हैं...