comScore

न्यू भेड़ाघाट जाने के लिए बन रही नई पर्यटन सड़क शुरूआती हिस्से में सँकरी हो गई, काम भी अधूरा 

न्यू भेड़ाघाट जाने के लिए बन रही नई पर्यटन सड़क शुरूआती हिस्से में सँकरी हो गई, काम भी अधूरा 

नानाखेड़ा गाँव की शुरूआत में चौड़ी नहीं बनेगी, लोक निर्माण विभाग का कहना- सीमेण्ट के साथ पेवर ब्लॉक लगाकर चौड़ा करेंगे 

जिटल डेस्क जबलपुर । पर्यटकों की सुविधा के लिए चौड़ी की जा रही न्यू भेड़ाघाट सड़क की चौड़ाई एकदम शुरूआत में नानाखेड़ा गाँव के आसपास कम हो गई है। नानाखेड़ा से न्यू भेड़ाघाट ग्वारी गाँव तक कुल 9 किलोमीटर की लंबाई में यह सड़क बन रही है जिसकी चौड़ाई करीब डामर के साथ 30 फीट है पर शुरूआती हिस्से में यह 16 से 18 फीट ही रहेगी। सड़क शुरूआती हिस्से में चौड़ी न होने के पीछे तर्क दिया जा रहा है कि गाँव के हिस्से में सड़क पहले से सीमेण्टेड है, इसलिए नाम्र्स के अनुसार किनारे के हिस्सों को चौड़ा करने पेवर ब्लॉक लगाये जा रहे हैं। चौड़ा बनाने का दावा जरूर किया जा रहा है पर  यह पेवर ब्लॉक भी पूरी चौड़ाई को नहीं दर्शा रहे हैं। 
 के किसी भी हिस्से में नई सड़क का जब निर्माण होता है तो आने वाले 20 से 25  सालों के विजन के अनुसार उसको बनाया जाता है पर यहाँ तो लगता है जैसे इस विषय में सोचा ही नहीं गया है। सड़क एकदम शुरूआती हिस्से में अभी सँकरी हो गई है। यह आम सड़क होती  तो भी चल सकता है पर पर्यटन के लिहाज से जब इसे विकसित किया जा रहा है तब इसके विषय में ज्यादा गंभीरता से सोचना चाहिए। इसकी चौड़ाई से किसी तरह का समझौता नहीं करना चाहिए। लोगों का कहना है कि गाँव के नजदीक इस मार्ग के लिए  अतिक्रमण अलग कर इसको चौड़ा किया जा सकता है। फिलहाल इसका काम पूरी तरह से थमा हुआ है और शुरूआत में जहाँ पेवर ब्लॉक लगाने का काम हुआ है वे पेवर ब्लॉक अभी से यहाँ-वहाँ बिखर रहे हैं। लोक निर्माण विभाग के उपयंत्री  एके  दाहिया कहते हैं कि जहाँ सड़क अभी सँकरी दिख रही है वहाँ पर पूरी चौड़ाई से बनाई जाएगी। साथ ही गुणवत्ता का भी ख्याल रखा जाएगा। इसका हाल ही में अधिकारियों ने निरीक्षण भी किया है।
आगे जाकर भी अटक गई 
अभी सड़क न्यू भेड़ाघाट से पहले डुडवारा गाँव में 200 मीटर के हिस्से में भी उलझ गई है। इसकी वजह यह है कि जहाँ पर यह सड़क चौड़ी किया जाना है वहाँ पर कुछ लोगों से भूमि संबंधी विवाद सामने आया है। लोक निर्माण विभाग सड़क बनाना चाह रहा था जिसको बनाने से रोक दिया गया। अब लोकनिर्माण विभाग का दावा है कि मानसून सीजन खत्म हो गया है सड़क जहाँ पर बननी है उस हिस्से का सीमांकन कराकर सड़क का निर्माण आगे जल्द बढ़ाया जाएगा। 
यहाँ अब भी डामर नहीं चढ़ा
मार्ग में चार पुलिया जो नई बनाई गई हैं उसके 100 मीटर के दायरे में सड़क में डामर अब भी नहीं चढ़ा है। कुल मिलाकर बड़े हिस्से में सड़क अधूरी है। फाइनल बिटमुन कांक्रीट अभी बाकी है। साथ ही जहाँ बन चुकी है वहाँ गड्ढे उभर आये हैं। कहीं ढलान है तो कहीं पर किनारे के हिस्से से अधूरी दिख रही है। सड़क बारिश खत्म होने के बाद भी बनना शुरू नहीं हुई है। कई तरह की कमियाँ अब इस मार्ग पर दिख रहीं हैं। पर्यटन के पीक सीजन में भी यह सड़क आगे रुलाने वाली है।

कमेंट करें
taYSf