comScore

‘ध्रुव’ के तहत चयनित 60 बच्चों से मिले निशंक और धोत्रे  

‘ध्रुव’ के तहत चयनित 60 बच्चों से मिले निशंक और धोत्रे  

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नवाचार प्रशिक्षण कार्यक्रम-ध्रुव के तहत चुने गए 60 बच्चों ने मंगलवार को केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ और राज्य मंत्री संजय धोत्रे से मुलाकात की। इस मौके पर केन्द्रीय मंत्री निशंक ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की प्रेरणा से शुरू हुआ यह ध्रुव कार्यक्रम नए भारत की आधारशिला जैसा है। उन्होने चयनित बच्चों से कहा कि आप साधारण बच्चे नहीं है। इसलिए आपको काम भी असाधारण करना पड़ेगा। मानव संसाधन विकास मंत्री ने कहा कि ध्रुव कार्यक्रम के तहत बच्चों की प्रतिभा को नया आयाम देने के लिए देश के कला व विज्ञान के क्षेत्र के प्रख्यात विद्वानों द्वार प्रशिक्षण दिया गया है। उन्होने उम्मीद जताई कि सभी 60 बच्चे अपने अपने क्षेत्र में न सिर्फ भारत मंे बल्कि पूरे विश्व में अपनी प्रतिभा का परचम लहराएंगे। उन्हाेने बच्चों को सलाह दी कि वे जीवन में सफल होने के लिए समय का प्रबंधन करें और चुनौतियों का डटकर सामने करें।  

ध्रुव से मिला प्रतिभावान छात्रों को निखारने का मौका

इस मौके पर मानव संसाधन विकास राज्य मंत्री संजय धोत्रे ने कहा कि इस कार्यक्रम के माध्यम से हमें अपने प्रतिभावान छात्रों को निखारने का मौका मिला है। उन्होने बच्चों से कहा कि आपके माध्यम से भारत कला और विज्ञान दोनों क्षेत्रों में विश्व के अग्रणी देशों में शामिल होगा और भारत एक बार फिर पूरी दुनिया का नेतृत्व करेगा। बता दें कि पिछले 14 दिनों से चल रहे इस कार्यक्रम में बच्चों को प्रख्यात फिल्म निर्देशक सुभाष घई, पार्श्व गायक मोहित चौहान, विख्यात ध्रुपद गायक वसिफुद्दीन डागर, सूफी गायक व सांसद हंसराज हंस से मिलने और उनसे सीखने का मौका मिला है। 10 अक्टूबर से प्रारंभ हुए ध्रुव  कार्यक्रम का समापन उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू करेंगे।
 

कमेंट करें
VHp8k