दैनिक भास्कर हिंदी: मनपा आयुक्त तुकराम मुंढे पर अविश्वास की तलवार, सर्वदलीय नेताओं की बैठक में फैसला 

August 25th, 2018

डिजिटल डेस्क,  नाशिक ।  आयुक्त तुकाराम मुंढे  द्वारा वृद्धि किए हुए संपत्तिकर के देयक वितरित करने के आदेश देने से नगरसेवक अक्रोशित हो गए हैं। इस बीच  आयुक्त श्री मुंढे के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव दाखिल करने का निर्णय सत्तारूढ भाजपा ने लिया है। इस संदर्भ में महापौर निवासस्थान रामायण में सर्वदलीय गटनेताओं की बैठक संपन्न हुई। इस दौरान स्थायी समिति  के सदस्यों को बुलाकर अविश्वास प्रस्ताव के लिए विशेष महासभा बुलाने के लिए हस्ताक्षर के साथ पत्र लिखवाकर लेने की चर्चा है। अगामी सप्ताह में यह  विशेष महासभा बुलाई जाएगी। इसके लिए पालकमंत्री गिरीश महाजन के साथ चर्चा की जाएगी। 

बताया जाता है कि अविश्वास प्रस्ताव पर स्थायी समिति के 10  सदस्य व 50 से अधिक नगरसेवकों के हस्ताक्षर हैं। देर रात तक सभी दलों के गटनेताओं को बुलाकर उनके हस्ताक्षर लिए जाने की जानकारी प्राप्त हुई। भाजप शहराध्यक्ष तथा विधायक बालासाहेब सानप, महापौर रंजना भानसी की प्रमुख उपस्थिति में सर्वदलीय गटनेताओ की  बैठक संपन्न हुई। नवी मुंबई के स्तर पर नाशिक में श्री मुंढे के खिलाफ महाराष्ट्र महानगरपालिका अधिनियम 1949 की धारा 36/3 के तहत अविश्वास  लाने का  निर्णय इस बैठक में लिया गया।

बैठक के दौरान सभागृहनेता दिनकर पाटील, भाजप गटनेता संभाजी मोरुस्कर, मनसे गटनेता सलीम शेख, कांग्रेस गटनेता शाहू खैरे आदी उपस्थित थें। विधायक देवयानी फरांदे देर रात को बैठक में शामिल हुई। अविश्वास प्रस्ताव के लिए विशेष महासभा का आयोजन आवश्यक होने के कारण कानून के प्रावधान के अनुसार स्थायी समिति के सदस्यो के हस्ताक्षर का पत्र महापौर के नाम पर तत्काल लिखवाया गया। इसके लिए स्थायी समिति सदस्य उद्धव निमसे, दिनकर पाटील, प्रवीण तिदमे, सुषमा पगार, पुष्पा आव्हाड, संतोष सालवे, संगीता जाधव को पत्रपर हस्ताक्षर करने के लिए महापौर बंगले पर बुलाया गया।