comScore

अब सस्ती चीजें नहीं बेच सकती ई-कॉमर्स कंपनिया, गोयल ने कहा- छोटे दुकानदारों का नहीं होगा नुकसान 

अब सस्ती चीजें नहीं बेच सकती ई-कॉमर्स कंपनिया, गोयल ने कहा- छोटे दुकानदारों का नहीं होगा नुकसान 

डिजिटल डेस्क, मुंबई। केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने कहा है कि केंद्र सरकार ने ई- कॉमर्स के लिए स्पष्ट दिशानिर्देश तैयार किया है। ई-कॉमर्स के नाम पर मल्टी ब्रांड रिटेल चलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई होगी। सरकार खुदरा व्यापारियों को नुकसान नहीं होने देगी। गुरुवार को प्रदेश भाजपा कार्यालय में पत्रकारों से बातचीत में गोयल ने कहा कि ई-कॉमर्स एक प्लेटफार्म है जहां पर सामान की खरीदी और बिक्री की जा सकती है। लेकिन ई-कॉमर्स को कोई अधिकार नहीं है कि वह अपने उत्पाद को कम कीमत पर बेचकर रिटेल की व्यवस्था को नुकसान पहुंचाए। ई-कॉमर्स को अनुमति नहीं है कि वह उत्पाद को अपनी मिल्कियत बनाए। मेरे पास कुछ शिकायतें आई हैं। ई-कॉमर्स कंपनियों से जवाब मांगा गया है। केंद्रीय वाणिज्य मंत्री ने कहा कि मल्टी ब्रांड रिटेल में 49 प्रतिशत से अधिक एफडीआई की अनुमति नहीं है। यदि ई-कॉमर्स की आड़ में मल्टी ब्रांड रिटेल के नियमों का उल्लंघन किया जाता  है तो खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई होगी। 

रेलवे के निजीकरण की योजना नहीं

गोयल ने कहा कि रेलवे में किसी चीज का निजीकरण करने की कोई योजना नहीं है। उन्होंने कहा कि आईआरसीटीसी को आईपीओ में सूचीबद्ध किया गया है। गोयल ने कहा कि अब सीसीटीवी कैमरा हर ट्रेन में होगा। उन्होंने बताया कि आरपीएफ में 50 प्रतिशत से अधिक महिलाओं की भर्ती की जा रही है। जीएसटी टैक्स कलेक्शन को लेकर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बयान पर गोयल ने कहा कि जीएसटी को प्रभावी रूप से जमीन पर लागू करने की जिम्मेदारी राज्य सरकार की होती है। महाराष्ट्र में जीएसटी से राजस्व नहीं घटा है। 

राजस्थान में जीएसटी कलेक्शन में कमी के लिए गहलोत जिम्मेदार

गोयल ने कहा कि गहलोत को अपने गिरेबान में झांक कर देखना चाहिए कहीं ऐसा तो नहीं है कि वे दखलअंदाजी कर राजस्थान में जीएसटी के कलेक्शन को कमजोर कर रहे हैं। कांग्रेस के जमाने में हर टैक्स कलेक्शन कमजोर होता था। अगर राजस्थान में जीएसटी कलेक्शन कम हो रहा है तो इसके लिए गहलोत जिम्मेदार हैं। गोयल ने कहा कि महाराष्ट्र में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के नेताओं ने जिस चीज में भी हाथ लगाया है उसमें भ्रष्टाचार की पराकाष्ठा की है। गोयल ने दावा किया कि चुनाव में महायुति 220 सीटें पार करेगी। 

दागी नहीं हैं भाजपा में आने वाले विधायक 

गोयल ने कहा कि विपक्षी दल कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के जिन विधायकों को भाजपा में शामिल किया गया है उनमें ऐसा कोई नहीं है जिसके खिलाफ चार्जशीट दायर हुई हो। हमने चुन-चुन कर अच्छे लोगों को ही पार्टी में शामिल किया है। उन्होंने कहा कि वैसे तो कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस के सारे भाजपा में आने के लिए तैयार बैठे थे लेकिन इस मामले में हमने बहुत ही सावधानी बरती है। 
 

कमेंट करें
FMWSE