दैनिक भास्कर हिंदी: अब जनवरी में चुने जाएंगे नए प्रदेश अध्यक्ष, सोमैया का दावा - शिवसैनिकों से जान को खतरा

December 18th, 2019

डिजिटल डेस्क, मुंबई। प्रदेश में नई सरकार बनाने को लेकर हुई सियासी उठापठक का असर भाजपा के संगठनात्मक चुनाव पर पड़ा है। राज्य में संगठनात्मक चुनाव की प्रक्रिया पूरी करके प्रदेश भाजपा के नए अध्यक्ष का चयन 15 दिसंबर तक पूरा होना था लेकिन राज्य की सियासत में तेजी से बदले घटनाक्रम के कारण भाजपा का संगठनात्मक चुनाव तय समय पर पूरा नहीं हो पाया है। अब प्रदेश भाजपा के नए अध्यक्ष का चयन 15 जनवरी तक होने की संभावना है। समझा जा रहा है कि भाजपा के दिग्गज नेता  एकनाथ खडसे, पूर्व मंत्री पंकजा मुंडे, पूर्व मंत्री राम शिंदे जैसे नेताओं की नाराजगी के कारण संगठनात्मक चुनाव में देरी हुई है। क्योंकि पार्टी के इन दिग्गज नेताओं को अपने गृह जिलों में अच्छा खासा प्रभाव है। प्रदेश भाजपा के एक पदाधिकारी ने दैनिक भास्कर से बातचीत में बताया कि राज्य के 97 हजार बूथ समितियों में से 70 प्रतिशत बूथ समिति का गठन हो चुका है। बूथ अध्यक्ष व बूथ समितियों के गठन के बाद मंडल अध्यक्ष और मंडल समिति सदस्य का चयन किया जाएगा। इसके बाद जिला अध्यक्ष और जिला समिति के सदस्य चुने जाएंगे। बाद में जिला अध्यक्ष प्रदेश भाजपा के नए अध्यक्ष का चयन करेंगे। पदाधिकारी ने बताया कि प्रदेश भाजपा ने संगठनात्मक दृष्टि से राज्य को करीब 72 जिलों में बांट दिया है। अहमदनगर, पुणे और रत्नागिरी जिले के शहरी और ग्रामीण इलाकों को कई भागों में बांटा गया है। 

सोमैया का दावा : शिवसैनिकों से जान का खतरा  

भाजपा के पूर्व सांसद किरीट सोमैया ने शिवसेना से अपनी जान को खतरा होने का दावा किया है। उन्हें डर है कि शिवसैनिक उनपर हमला कर देंगे। इस संबंध में सोमैया ने राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी और प्रदेश सरकार के गृह सचिव संजय कुमार को पत्र लिखा है। बुधवार को सोमैया ने कहा कि राज्य में शिवसेना के नेतृत्व में नई सरकार बनने के बाद मुझे सोशल मीडिया के माध्यम से धमकी मिल रही है। सोमैया ने कहा कि शिवसेना के नेता मुझे तीन साल पहले मुझ पर शिवसैनिकों द्वारा किए गए हमले की याद दिला रहे हैं। शिवसेना के नेता कह रहे हैं कि आप पर तीन साल पहले हमला हुआ था। तब आप बच गए थे लेकिन इस बार आप नहीं बचेंगे। सोमैया ने कहा कि मैं सरकार चला रहे शिवसेना के नेताओं से कहना चाहूंगा कि इस प्रकार की धमकी से डरने वाला नहीं हूं। भ्रष्टाचार के विरोध में मेरी लड़ाई जारी रहेगी। सोमैया ने कहा कि विधान परिषद के नेता प्रवीण दरेकर ने मेरी सुरक्षा को लेकर सदन में जो मुद्दा उठाया है उसमें तथ्य है।