comScore

ऑनलाइन मनी ट्रांसफर के चक्कर में खाते से रकम पार, गोपनीय जानकारी शेयर करना पड़ा महंगा

ऑनलाइन मनी ट्रांसफर के चक्कर में खाते से रकम पार, गोपनीय जानकारी शेयर करना पड़ा महंगा

डिजिटल डेस्क, नागपुर। गूगल पे से रुपए जमा करने का झांसा देकर एक व्यक्ति के खाते से रकम निकाल ली गई है। घटना को ऑनलाइन अंजाम दिया गया है। घटना के लगभग 8 महीने बाद आरोपी के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया गया है। जांच का हवाला देकर प्रकरण को ठंडे बस्ते में डाल दिया गया था।  सोनेगांव थाने में प्रकरण दर्ज किया गया है। 

यह है मामला
प्रसाद सोसायटी निवासी उत्कर्ष संजयराव जावरकर (29) है। 7 अप्रैल 2019 की रात करीब सवा नौ बजे उसके मोबाइल पर किसी अंजान व्यक्ति का फोन आया था। फोनकर्ता ने उत्कर्ष को बताया था कि उसकी मां से उसकी बात हुई है। दो लड़कियां किराए से रहने के लिए उसके घर आने वाली हैं। किराए के एडवांस रुपए वह उत्कर्ष के गूगल पे अकाउंट में डाल रहा है। इस कारण उत्कर्ष ने अपने बैंक खाते की गोपनीय जानकारी उस अंजान व्यक्ति को बता दी।

उत्कर्ष ने जैसे ही बैंक खाते की जानकारी दी, वैसे ही उसके खाते से आॅनलाइन 29 हजार रुपए निकाल लिए गए। इसके तत्काल बाद उत्कर्ष के मोबाइल पर रुपए निकालने का संदेश आया। इसके बाद मामले की शिकायत संबंधित थाने को दी गई थी।  प्रकरण की जांच-पड़ताल होने का हवाला देकर पुलिस ने इसे ठंडे बस्ते में डाल दिया था, जिससे महीनों बाद सोमवार को आरोपी के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया गया है, लेकिन आरोपी के संबंध में कोई ठोस जानकारी पुलिस को नहीं मिली है।

बाइक दुर्घटनाग्रस्त
कोराड़ी रोड पर नाका के पास एक बाइक दुर्घटनाग्रस्त हो गई। बाइक पर सवार युवक गंभीर रूप से जख्मी हो गया। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार एक ट्रक की चपेट में आने से युवक की बाइक हादसे का शिकार हो गई। ट्रक चालक वहां से फरार हो गया। गंभीर रूप से जख्मी युवक को शासकीय अस्पताल में भर्ती किया गया है। पुलिस ने उसकी दोपहिया को कोराड़ी थाने में ले जाकर रख दिया है।  रात  करीब 11 बजे उक्त घटना हुई। 
 

कमेंट करें
vVyIX