comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

लता-सचिन तेंडुलकर के खिलाफ जांच पर विपक्ष ने उठाए सवाल, विधानसभा में फडणवीस और देशमुख में नोकझोंक

लता-सचिन तेंडुलकर के खिलाफ जांच पर विपक्ष ने उठाए सवाल, विधानसभा में फडणवीस और देशमुख में नोकझोंक

डिजिटल डेस्क, मुंबई। विधानसभा में विपक्ष के नेता देवेद्र फडणवीस ने देश के समर्थन में ट्वीट करने पर भारत रत्न लता मंगेशकर और सचिन तेंडुलकर की जांच करने को लेकर सरकार को घेरा उन्होंने कहा कि उस ट्वीट में गलत क्या था। मंगलवार को इस दौरान विधानसभा सदन में फडणवीस और राज्य के गृहमंत्री अनिल देशमुख के खिलाफ नोकझोंक देखने को मिली। राज्यपाल के अभिभाषण पर चर्चा के दौरान फडणवीस ने कहा कि 26 जनवरी को हुई हिंसा सामान्य नहीं थी उसकी पृष्ठभूमि में देश के साथ खड़े होकर क्या किसी ने गलती की। ‘सिख फॉर जस्टिस’ नाम की संस्था ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को पत्र लिखकर अलग देश बनाने की सलाह दी है, क्या हम ऐसे लोगों का समर्थन करेंगे। मामले में गृहमंत्री अनिल देशमुख ने सफाई दी कि लता मंगेशकर या सचिन तेंडुलकर की नहीं बल्कि भाजपा के आईटी सेल के लोगों की जांच की जा रही है। इस पर फडणवीस ने कहा कि देश के समर्थन में ट्वीट करने पर हमें गर्व है। 

राज्यपाल का पद सबसे बड़ा

राज्यपाल और राज्य सरकार के बीच चल रहे विवाद को लेकर फडणवीस ने कहा कि विवाद पहले भी हुए हैं, लेकिन ऐसा कभी नहीं हुआ कि राज्यपाल को विमान से उतरना पड़ा हो। उन्होंने कहा कि राज्य में राज्यपाल का पद मुख्यमंत्री के पद से ऊंचा होता है। राज्यपाल व्यक्ति नहीं व्यवस्था है। अगर मंजूरी नहीं मिली थी तो कैसे विमान खड़ा हो गया उसमें तेल भरा गया, राज्यपाल बोर्डिंग पास लेकर उसमें बैठ गए और फिर उन्हें उतार दिया गया।

कमेंट करें
DLmZY