comScore

हर रोज हो रही बारिश से सड़ रही धान, बीमारियों के प्रकोप से चिंतित हो रहे किसान

हर रोज हो रही बारिश से सड़ रही धान, बीमारियों के प्रकोप से चिंतित हो रहे किसान

डिजिटल डेस्क, भंडारा । धान परिपक्व होने की अवस्था में है लेकिन प्रतिदिन हो रही बारिश के चलते किसानों की चिंता बढ़ गयी है। लगातार बारिश से फसल बर्बाद हो रही है। खेत में पानी भरने से धान की फसल सड़ने लगी है। कई जगह फसल में कई प्रकार की बीमारियों का प्रकोप दिखाई दे रहा है। जिसके चलते कभी बारिश का इंजतार करने वाले किसान अब बारिश के रुकने की प्रतीक्षा करते दिखाई दे रहे है। जुलाई माह में हुई अल्प बारिश से कई किसानों को दुबोरा बुआई करनी पड़ी। इसके बाद योग्य प्रमाण में बारिश होने से रोप निकले। ़

बारिश लगातार शुरू रहने से कम समय में किसानों ने रोपाई का काम काफी हद तक पूर्ण कर लिया। जिससे अब फसल तैयार होने की स्थिति में है। इस वर्ष अच्छी बारिश होने से किसानों ने पर्याप्त उत्पादन होने की अपेक्षा जताई थी। मगरबीते कुछ दिनों से लगातार बारिश होने से किसानों का अंदाजा गलत निकला। बारिश के चलते अब किसानों के समक्ष समस्या पनप रही है। किसानों के खेत में अब तैयार हो रही फसल बारिश के चलते बर्बाद हो रही है। जिससे किसानों को मुंह में आया निवाला छिन जाने का डऱ बना हुआ है। जिले में बीते कुछ वर्ष से लगातार कम बारिश होने से किसानों ने हल्के प्रजाति की धान लगायी है। जो कम समय में तैयार हो जाती  है। किन्तु इस वर्ष अब तक बारिश नहीं थमने से फसल पर कई प्रकार के रोग पनपने से फसल बर्बाद हो रही है। 

किसानों को दिया प्रशिक्षण
महाराष्ट्र शासन कृषि तंत्रज्ञान प्रबंधन विभाग (आत्मा) भंडारा के तहत कृषि विज्ञान विभाग साकोली द्वारा फल प्रक्रिया, संस्करण प्रशिक्षण वर्ग का आयोजन किया गया। विविध फल, सब्जी पर होने वाली प्रक्रिया, फलों को दीर्घकाल तक टिकाए रखने पर मार्गदर्शन किया गया। इस कार्यक्रम में फल प्रक्रिया प्रशिक्षण केंद्र औरंगाबाद के सामूहिक फल प्रक्रिया प्रशिक्षक राजेंद्र यादव, स्मिता सालुंखे के मार्गदर्शन में हुई। उद्घाटन वरिष्ठ धान विशेषज्ञ डा. शामकुवर ने किया। 

कमेंट करें
lFefu