वायरल : शाह के काफिले के लिए रोकी गई एंबुलेंस में नहीं था मरीज, मुंबई पुलिस ने सोशल मीडिया पर दावे को बताया गलत

September 7th, 2022

डिजिटल डेस्क, मुंबई। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के मुंबई दौरे के समय उनके काफिले के लिए एंबुलेंस रोके जाने का दावा करने वाले वीडियो पर मुंबई ट्रैफिक पुलिस ने सफाई दी है। पुलिस की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि जांच के बाद इस बात की पुष्टि हुई है कि एंबुलेंस में कोई मरीज नहीं था। जिस दावे के साथ वीडियो सोशल मीडिया पर साझा किया जा रहा है वह झूठा है। पुलिस के मुताबिक जांच में खुलासा हुआ है कि एंबुलेंस में तकनीकी गड़बड़ी थी जिसके चलते ड्राइवर उसका साइरन बंद नहीं कर पा रहा था। उस समय तैनात यातायात विभाग के कर्मचारियों ने इसकी पुष्टि की है। इससे जुड़ा वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा था। अंधेरी के मरोल सिग्नल पर रविवार को बनाए गए वीडियो में शाह का काफिला गुजरता नजर आ रहा है साथ ही दूसरी तरह सड़क पर एक एंबुलेंस खड़ी नजर आ रही है जिसका साइरन बज रहा था। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि मामले में एंबुलेंस चला रहे ड्राइवर का भी बयान दर्ज किया जाएगा। फिलहाल वायरल वीडियो की जांच में यह साफ हुआ है कि किसी इमरजेंसी वाले मरीज को रोककर काफिले को रास्ता नहीं दिया गया था बल्कि खराबी के चलते एंबुलेंस का सायरन लगातार बज रहा था। बता दें कि शाह दो दिन के मुंबई दौरे पर आए थे इस दौरान उन्होंने लालबाग के राजा के दर्शन करने के साथ मुंबई महानगर पालिका चुनावों को लेकर अपनी पार्टी के नेताओं के साथ बैठकें की थीं।