comScore

साधारण बीमारी वाले मरीज भी पहुँच रहे मेडिकल, बढ़ रही भीड़ 

September 18th, 2020 14:50 IST
साधारण बीमारी वाले मरीज भी पहुँच रहे मेडिकल, बढ़ रही भीड़ 

बड़ी संख्या में डॉक्टर-स्टाफ हो चुका संक्रमित, प्रबंधन ने कहा- गंभीर मरीज ही इलाज कराने आएँ तो बेहतर
डिजिटल डेस्क जबलपुर ।
नेताजी सुभाषचंद्र बोस मेडिकल कॉलेज अस्पताल में मरीजों की भीड़ बढ़ती जा रही है, एक ओर यहाँ चार भवनों में कोरोना के मरीज हैं तो वहीं दूसरी ओर गायनिक सहित दूसरे विभागों में भी ऐसे मरीज पहुँच रहे हैं जिनका इलाज प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भी संभव है। यहाँ बड़ी संख्या में सीनियर व जूनियर डॉक्टर्स सहित अन्य स्टाफ कोरोना संक्रमित हो चुका है, वहीं बढ़ती भीड़ ने बाकी में संक्रमित होने का खतरा बढ़ा दिया है।
कई डॉक्टर्स काम पर लौटे
 मेडिकल के कई डॉक्टर्स संक्रमण से ठीक होने के बाद काम पर लौट आए हैं, इनमें अधिकांशत: दूसरे राज्यों व शहरों के हैं। सीनियर डॉक्टर्स का कहना है कि यहाँ कोविड वार्ड में ड्यूटी करने वाले चिकित्सकों से ज्यादा दूसरे विभागों में मरीजों की जाँच व इलाज करने वाले डॉक्टरों को कोविड का खतरा है। कोविड वार्ड में तो सुरक्षा उपायों की प्राथमिकता है लेकिन अन्य में ऐसा नहीं है। इस स्थिति में यहाँ सिर्फ सीरियस मरीज ही आएँ तो कम दबाव में उनका बेहतर इलाज किया जा सकेगा।
15 हजार से अधिक प्रसूताओं का इलाज 8 मेडिकल के गायनिक विभाग में करीब 18 डॉक्टर्स व तीन दर्जन तक अन्य स्टाफ संक्रमित हो चुका है, फिर भी यह विभाग गभर्वती महिलाएँ जिनमें संक्रमित व गैर संक्रमित दोनों शामिल हैं की डिलेवरी के साथ ही इलाज भी कर रहा है। विभागाध्यक्ष डॉ. कविता एन सिंह ने बताया कि मार्च से अब तक इस विभाग में 120 कोरोना संक्रमित गर्भवती व प्रसूति के बाद के मरीजों का इलाज किया गया, इस समय अवधि में अब तक 15 हजार से ज्यादा महिलाओं का इलाज किया गया। यहाँ भी ऐसी महिलाओं का दबाव बढ़ रहा है जो प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र या क्षेत्र के डिलेवरी हैल्थ सेंटर में अपना इलाज करा सकती हैं।
 

कमेंट करें
ldzeE