दैनिक भास्कर हिंदी: चव्हाण का दावा- बैंक घोटाले से खतरे में जेटली की कुर्सी, नाराज हुए हैं पीएम मोदी

February 20th, 2018

डिजिटल डेस्क, मुंबई। पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) में हुए हजारों करोड़ के घोटाले की वजह से मचे बवाल से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली से खफा हो गए हैं। इस घोटाले में नीरव मोदी की भूमिका से मोदी वित्तमंत्री से नाराज हो गए। इस लिए संभव है कि जेटली को केंद्रीय मंत्री के पद से इस्तीफा देना पड़े। ये दावा सनसनीखेज कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण ने किया है। मंगलवार को चव्हाण ने कहा कि बतौर वित्तमंत्री जेटली इस मामले से निपट नहीं सके। इससे वित्त मंत्रालय की असफलता साबित हुई है।

उन्होंने कहा कि यदि जेटली पीएनबी घोटाले पर स्पष्टीकरण नहीं देते हैं, तो उनके इस्तीफे की मांग करेंगे।पृथ्वीराज के इस दावे के बाद राजनीतिक माहौल गरमा सकता है। क्योंकि नीरव मोदी मामले में विपक्ष काफी आक्रामक है। लेकिन मामले में मोदी और जेटली दोनों चुप्पी साधे हुए हैं। गौरतलब है कि साढ़े ग्यारह हजार करोड़ के पीएनबी घोटाले में अब तक मुख्य आरोपी नीरव मोदी सीबीआई की पकड़ से बाहर है। नीरव परिवार के साथ देश छोड़कर भागने में सफल रहा। विपक्ष इसे केंद्र सरकार की असफलता बता रहा।

इनकी हो चुकी गिरफ्तारी
इससे पहले पंजाब नेशनल बैंक धोखाधड़ी मामले में बैंक के तीन और अधिकारियों को गिरफ्तार किया जा चुका है। मामले में  अब छह लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है। तीनों आरोपी ब्रांडी हाउस ब्रांच में काम करते हैं। गिरफ्तार आरोपियों के नाम बेचू तिवारी , यशवंत जोशी और प्रफुल्ल सावंत है। सीबीआई ने एक बयान जारी कर जानकारी दी थी कि तीनों आरोपियों के नवी मुम्बई, अंधेरी और डोम्बिवली स्थित घरों की तलाशी हुई। सीबीआई के एक अधिकारी के मुताबिक तिवारी पर मामले में पहले से गिरफ्तार गोकुलनाथ शेट्टी के कामकाज की निगरानी की जिम्मेदारी थी। साथ ही उस पर ही यह भी जिम्मा था कि लेनदेन से जुड़ी जानकारी सिस्टम में अपलोड हो। गिरफ्तार दूसरे आरोपियों को भी इस गोरखधंधे की पूरी जानकारी थी।