comScore

थाने पहुंची पीड़िता को प्रेम जाल में फांसकर पुलिस अधिकारी ने किया यौन शोषण, मामला दर्ज

February 05th, 2019 18:41 IST
थाने पहुंची पीड़िता को प्रेम जाल में फांसकर पुलिस अधिकारी ने किया यौन शोषण, मामला दर्ज

डिजिटल डेस्क, नागपुर। हुड़केश्वर थानांतर्गत सोलापुर में कार्यरत एक पुलिस अधिकारी के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज हुआ है। पुलिस अधिकारी का नाम राजेंद्र आनंदा मगदूम है। पीड़िता का आरोप है कि मगदूम ने उसे धमकी देकर गर्भपात भी कराया। महिला और मगदूम की पहचान वर्ष 2011 में इमामवाड़ा थाने में कार्यरत रहने के समय हुई थी। उस समय पीड़ित महिला और उसके मामा के बीच पैसे के लेनदेन को लेकर विवाद हो गया था, तब यह मामला इमामवाड़ा थाने पहुंचा था। उस समय मगदूम और महिला की पहचान हुई। महिला ने करीब 5 वर्ष बाद अब मगदूम के खिलाफ हुड़केश्वर थाने में दुष्कर्म की शिकायत की है। सूत्रों ने बताया कि पुलिस अधिकारी के खिलाफ बलात्कार का मामला दर्ज होने की यह 15 दिनों में दूसरी घटना है। इसके पहले वाड़ी के पुलिस अधिकारी के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज किया गया है। 

4 साल से मामला दर्ज करवाने लगा रही गुहार
पुलिस सूत्रों के अनुसार 42 वर्षीय महिला अपने पति से अलग रहती थी। उसका आरोप है कि उसे शादी के सपने दिखाकर आरोपी पुलिस अधिकारी राजेंद्र मगदूम ने कई बार उससे शारीरिक संबंध बनाए। उसके बाद उसका घर हड़प कर उसे धमकी देने लगे थे। पीड़िता ने एपीआई (पुलिस अधिकारी) के खिलाफ मामला दर्ज कराने के लिए करीब 4 साल से पुलिस अधिकारी, सामाजिक संस्था संगठनों के पदाधिकारियों के पास गुहार लगा रही थी। वह पुलिस आयुक्त डाॅ. भूषणकुमार उपाध्याय से मिलकर आपबीती सुनाई। उसके बाद आरोपी राजेंद्र आनंदा मकदुम (42) के खिलाफ हुड़केश्वर थाने में मामला दर्ज किया गया।  

फिलहाल सोलापुर में है कार्यरत
आरोपी मगदूम वर्तमान समय में सोलापुर जिले की टेंभुर्णी थाने में कार्यरत हैं। मगदूम वर्ष 2011 में नागपुर के इमामवाड़ा थाने में कार्यरत थे। उस समय पीड़िता के मामा ने उसके खिलाफ इमामवाड़ा थाने में शिकायत दर्ज कराई थी। इस मामले की जांच के दौरान महिला और मकदुम की पहचान हो गई। इस मामले में महिला के साथ सहानुभूति से पेश आते हुए मकदुम से उसकी दोस्ती हो गई। उसके बाद दोनों के बीच प्रेमसंबंध निर्माण हो गया। फरवरी 2011 में शादी के सपने दिखाकर मगदूम ने उसके साथ शारीरिक संबंध बनाए। उसके बाद वह दोनों कई बार संबंध बनाए। वर्ष 2011 से 2014 के दरमियान कई बार संबंध बनाए जाने के दौरान पीड़ित महिला गर्भवती हो गई। उस समय मकदुम ने उसे धमकी देकर उसका गर्भपात करा दिया। इस दरमियान महिला के नाम पर लाखों रुपए के मकान पर मगदूम की नियत गई। उसने महिला का मकान अपने नाम पर करा लिया। उसके बाद उससे शादी करने से इनकार कर दिया।  

कमेंट करें
n87tA