दैनिक भास्कर हिंदी: होटल में पुलिस का छापा, संदिग्ध हालत में मिले युवक-युवतियां, एंट्री रजिस्टर में भी मिली गड़बड़ी

June 17th, 2019

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। यादव कॉलोनी क्षेत्र स्थित होटल सुकून में अवांछनीय लोगों के रुके होने व मोहल्ले के लोगों की सूचना पर पुलिस ने छापा मारा, जिससे वहाँ हड़कम्प मच गया। पुलिस टीम ने होटल के सभी कमरों की जाँच की और वहाँ ठहरे युवक, युवतियों की आईडी की जाँच एवं पूछताछ की। कार्रवाई के उपरांत जाँच टीम को रजिस्टर में प्रॉपर एंट्री न होने व आईडी में गड़बड़ी की आशंका नजर आने पर रजिस्टर जब्त किया गया है।

पुलिस के अनुसार रजिस्टर की जाँच उपरांत गड़बड़ी उजागर होने पर कार्रवाई की जाएगी। सूत्रों के अनुसार मदन-महल पुलिस को सूचना मिली थी कि यादव कॉलोनी स्थित होटल में युवक, युवतियों का जाना रहता है और वहाँ पर अवांछनीय गतिविधि संचालित होती है। इस सूचना पर सीएसपी कोतवाली दीपक मिश्रा ने पुलिस टीम के साथ दोपहर में होटल में छापा मारा और होटल में ठहरे युवक, युवतियों से अलग-अलग पूछताछ की एवं रजिस्टर आदि की सघन चैकिंग की गई। जाँच टीम का कहना है कि कुछ लोग बिना आईडी के ठहरे थे और रजिस्टर में सही तरीके से एंट्री नहीं पाए जाने के बाद सभी के बयान दर्ज कर मामले को जाँच में लिया गया है। जाँच में किसी प्रकार की गड़बड़ी उजागर होने पर धारा 144 के तहत कार्रवाई की जा सकती है। उधर इस कार्रवाई को लेकर तरह-तरह की चर्चा व्याप्त है।  
 

1 माह में 6 बार छापा 

इस कार्रवाई को लेकर होटल के मैनेजर प्रदीप श्रीवास्तव का कहना था होटल सतपुड़ा इन्फ्रोकोन ग्रुप की है और ओयो सेवा से जुड़ी है, इसलिए होटल में शहर के बाहर से मुसाफिर आकर ठहरते हैं, इसमें युवक, युवतियाँ भी शामिल हैं। होटल में रुकने वालों की आईडी की जाँच व रजिस्ट्रर में रिकॉर्ड दर्ज किया जाता है, इसके बाबजूद पुलिस द्वारा पिछले एक माह में 6 बार होटल में छापा मारा जा चुका है।

कार्रवाई को लेकर हंगामा 

होटल में छापे की कार्रवाई को लेकर हंगामा होने पर  तहसीलदार विवेक त्रिपाठी भी वहाँ पहुँच गए। उनका कहना था कि यह होटल उनके परिवार की है। कार्रवाई को लेकर उन्होंने पुलिस अधिकारियों से चर्चा की। उनका कहना था कि जाँच के दौरान होटल में ठहरे सभी यात्रियों की प्रॉपर आईडी थी और सभी बाहरी थे।

यहां भी होता है गलत काम

सूत्रों की माने तो भेड़ाघाट में भी ऐसी कई होटलें हैं, जहां पर अवैध गतिविधियां संचालित हो रही हैं। यहां पर कई रसूखदारों की होटल है, जिसके कारण यहां पर पुलिस कार्रवाई करने से बचती है। वहीं पुलिस अधीक्षक अमित सिंह का कहना है कि होटलों को चिन्हित किया गया है, इसके साथ ही वीडियो फुटेज भी प्राप्त हुए हैं, जिनके आधार पर छापा संबंधित कार्रवाई की जाएगी।