दैनिक भास्कर हिंदी: असली बोरियों में भरता था मिलावटी पशु आहार, पुलिस नेधोखाधड़ी का केस दर्ज किया

August 31st, 2018

डिजिटल डेस्क, सिवनी। पशु आहार के नाम पर मिलावट का अवैध कारोबार करने वाले एक व्यापारी पर कान्हीवाड़ा पुलिस ने  धोखाधड़ी का केस दर्ज किया है। लंबे समय से चल रहे इस खेल की जब शिकायत पुलिस को मिली तो जांच पड़ताल के बाद पुलिस को मामला दर्ज करना पड़ा। हालांकि व्यापारी की गिरफ्तारी नहीं हो पाई है। इस कार्रवाई से इस कारोबार की असलियत सामने आई है।

ये है मामला
पुलिस के अनुसार सिवनी के द्वारका अग्रवाल बालाजी ट्रेडर्स नाम से दुकान संचालित करता है। वह नागपुर की सागर पशु आहार नामक कंपनी का पशु आहार बेचने का काम करता है। सिवनी के अजीत जैन ने पुलिस को शिकायत दी कि अग्रवाल जो पशु आहार बेच रहा है वह मिलावटी है। इसमें कंपनी को छल करते हुए उसमें घटिया किस्म का पशु आहार मिलाकर बेचा जा रहा है। पुलिस ने जांच की तो सच सामने आ गया।

खाली बोरियों में होता था खेल
पुलिस ने बताया कि आरोपी द्वारका अग्रवाल गांव गांव से और बाजार से उसी कंपनी की खाली बोरियां एकत्रित करता था। बाद में उसी में मिलावटी पशुआहार भरकर बेच देता। बोरियां देखकर लोग आहार को असली समझते थे। पुलिस ने अलग अलग क्षेत्र से 10 खाली बोरियां कंपनी की जब्त की। पुलिस अब यह जांच कर रह है कि अब तक कंपनी से कितना आहार खरीदा गया और कितना बेचा गया। इसके बिल बाउचर के संबंध में भी जांच के लिए पुलिस सेल्स टैक्स विभाग को पत्र लिख सकती है।

धक्का देकर भाग गया लकड़ी तस्कर
लखनादौन में लकड़ी तस्कर ने वन अमले को धक्का देकर भाग निकला। अमले ने तीन नग चिरान और बाइक जब्त कर आरोपी की तलाश शुरु कर दी है। जानकारी के अनुसार लखनादौन वनपरिक्षेत्र ने द्वारा सांगईमाल से मोहगांव मार्ग पर स्थित मॉडल स्कूल के सामने से लखनौदान निवासी टीकाराम पटेल बाइक में 3 चिराग रखकर ले जा रहा था। तभी मोके में लखनादौन वन मंडल के कर्मचारी पहुंचे ओर उसे धर दबोचा। उसी मौके पर जब टीकाराम को पकड़ा, तभी वन कर्मी आशीष गुमास्ता को ठोकर मारते हुये भाग निकला। काफी मशक्कत के बाद अपराधी आशीष पटेल अपना माल व वाहन को छोड़कर भाग निकलने में कामयाब रहा। वाहन क्रमांक एमपी12बीबी 7398 को जब्त कर जांच की जा रही है। इस कार्रवाई मकें  संजय नामदेव, राजकुमार पटेल,आशीष गुमास्ता और अनंत परतेती शामिल रहे।