दैनिक भास्कर हिंदी: महाराष्ट्र विधानसभा में भी सीएए-एनसीआर-एनपीआर के खिलाफ पारित हो प्रस्ताव- नसीम खान

February 27th, 2020

डिजिटल डेस्क, मुंबई। भाजपा के समर्थन वाली बिहार की नीतिश कुमार सरकार द्वारा बिहार विधानसभा में राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) और राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (एनआरसी) के खिलाफ प्रस्ताव पारित किए जाने से उत्साहित कांग्रेस चाहती है कि महाराष्ट्र में भी महा विकास आघाडी सरकार महाराष्ट्र विधानसभा में इस तरह का प्रस्ताव पेश करे। इस मांग को लेकर पूर्व मंत्री व कांग्रेस के वरिष्ठ नेता नसीम खान ने गुरुवार को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे और उपमुख्यमंत्री अजित पवार से मुलाकात की। 

बिहार में एनआरसी-एनपीआर के खिलाफ प्रस्ताव से कांग्रेस उत्साहित

विधानभवन स्थित पत्रकार कक्ष में पत्रकारों से बातचीत में खान ने कहा कि महाराष्ट्र में भाजपा सीएए, एनआरसी व एनपीआर का समर्थन कर रही है पर इसी पार्टी वालीबिहार सरकार में इसके खिलाफ प्रस्ताव पारित किया गया है। यह स्वागत योग्य कदम है। अब महाराष्ट्र सरकार को भी ऐसा करना चाहिए। उन्होंने कहा कि इस बाबत मेरी मुख्यमंत्री ठाकरे के साथ विस्तार से चर्चा हुई है। मुख्यमंत्री ने इस बाबत चर्चा कर विचार करने का आश्वासन दिया है। पूर्व मंत्री ने कहा कि एनपीआर व एनआरसी की पहली सीढी है। जबकि सीएए संविधान सिद्धांतो के खिलाफ है। उन्होंने कहा कि असम में एनआरसी के चलते हजारों लोगों की नागरिकता चली गई है जबकि वे वास्तव में इस देश के नागरिक हैं। उन्होंने कहा कि इससे केवल मुस्लिम ही प्रभावित नहीं होंगे बल्कि समाज के सभी लोगों को परेशानी होगी। खान ने कहा कि एनआरपी 2010 में तय मानक के अनुसार होनी चाहिए।उन्होंने बताया कि मैंने मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री से मांग की है कि विधानमंडल के चालू बजट सत्र में ही इसके खिलाफ प्रस्ताव पारित किया जाए।