comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

छापा : पांच किलो प्लास्टिक पन्नी, डेयरी से मिलेे 1.80 लाख के पटाखे जब्त

छापा : पांच किलो प्लास्टिक पन्नी, डेयरी से मिलेे 1.80 लाख के पटाखे जब्त

डिजिटल डेस्क, नागपुर। कामठी नगर परिषद के स्वास्थ्य विभाग द्वारा सोमवार को प्रतिबंधित प्लास्टिक पन्नी रखने वालों के खिलाफ कार्रवाई को आगे बढ़ाते हुए फेरुमल चौक स्थित एक होटल से 5 किलो प्लास्टिक की पन्नी व कैरी बैग जब्त की। इस मामले में होटल संचालक के खिलाफ 5 हजार का जुर्माना भी किया है। शहर में प्लास्टिक की पन्नी और कैरी बैग पर प्रतिबंध जारी है। इसके चलते बीच-बीच में नगर परिषद द्वारा छापामार कार्रवाई की जा रही है। इसी क्रम को आगे बढ़ाते हुए सोमवार को कामठी नगर परिषद के स्वास्थ्य निरीक्षक विजय मेथिया को खबर मिली कि, फेरुमल चौक स्थित गौजर कैंटीन से ग्राहकों को प्लास्टिक की कैरी बैग में खाद्य पदार्थ दिया जा रहा है। खबर के आधार पर विजय मेथिया, संजय जैस्वाल, दर्शना गोंडाने और ग्लोबल साइंटिफिक इंक की टीम ने मिलकर होटल पर छापा मारा। यहां से 5 किलो प्लास्टिक की पन्नी बरामद की गई। इसके बाद होटल संचालक पर 5 हजार रुपए का जुर्माना भी किया गया। कामठी शहर में कई दुकानों में आज भी चोरी छिपे प्लास्टिक की पन्नी और कैरी बैग ग्राहकों को उपलब्ध कराई जा रही है। कामठी नप की ओर से लोगों को घर से थैली लाने के लिए आह्वान किया गया लेकिन, ग्राहकों की लापरवाही और जबरदस्ती के कारण दुकानदार प्लास्टिक की पन्नी और कैरी बैग चोरी छिपे ग्राहकों को उपलब्ध करा रहे हैं लेकिन, जब कार्रवाई होती है तो इसका खामियाजा दुकानदारों काे भुगतना पड़ रहा है।

छापा : डेयरी में मिलेे 1.80 लाख के पटाखे

जरीपटका क्षेत्र में पुलिस ने एक डेयरी पर छापा मारकर 1 लाख 80 हजार के प्रतिबंधित पटाखों से भरे 19 बॉक्स जब्त किए। पटाखे बिना अनुमति के रखे गए थे। पुलिस ने डेयरी मालिक मेघराज रोचलदास पंजवानी (47), इंद्रा कॉलोनी, जरीपटका निवासी के खिलाफ धारा 188, 286, 34, सहधारा 5/9 (ब) के तहत मामला दर्ज किया है। आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है। इस तरह अवैध पटाखा भंडारण  का यह दूसरा मामला है। इससे पूर्व करोड़ों रुपए के पटाखे जरीपटका पुलिस ने जब्त किए थे। पुलिस सूत्रों के अनुसार जरीपटका थाने की पुलिस गश्त पर थी। इसी दौरान गश्तीदल को गुप्त सूचना मिली कि गोकुल डेयरी, जरीपटका बाजार में बिना अनुमति के दुकान मालिक मेघराज पंजवानी ने बडी संख्या में अवैध तरीके से पटाखे जमा कर रखे हैं। पुलिस गश्तीदल ने मौके पर पहुंचकर  छापामार कार्रवाई की। आरोपी मेघराज पंजवानी ने डेयरी के अंदर दो कमरे में 19 बॉक्स अवैध पटाखे छिपाकर रखे थे। पुलिस ने पटाखों के सैंपल संबंधित विभाग के पास जांच के लिए भेजे हैं। 

बिक्री की कोई अनुमति नहीं ली थी

जरीपटका थाने के उपनिरीक्षक माधव शिंदे ने बताया कि, मेघराज की गोकुल डेयरी पर छापामार कार्रवाई के दौरान करीब 1 लाख 80 हजार रुपए के अवैध पटाखे मिले हैं। उसने यह पटाखे दीपावली के समय बेचने के लिए जमा कर रखे थे। इसे बेचने के लिए उसने कोई अनुमति नहीं ली थी। आरोपी ने बेखौफ  तरीके से इस माल को जमा कर रखा था। क्षेत्र के पुलिस उपायुक्त नीलोत्पल, सहायक पुलिस आयुक्त पी.एम. कार्यकर्ते के मार्गदर्शन में कार्रवाई की गई। जरीपटका के वरिष्ठ थानेदार पराग पोटे, द्वितीय पुलिस निरीक्षक दिलीप लांडगे, उप-निरीक्षक माधव शिंदे, हवलदार सुनील तिवारी, नायब सिपाही रवि अहीर, गणेश गुप्ता व अन्य ने कार्रवाई में सहयोग किया।
 

कमेंट करें
YsucD
NEXT STORY

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और कर्ज लेकर अपने सपनों के घर को खरीदते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें इतनी ही सावधानी बरती जाय जिससे कि आपकी मेहनत की कमाई को कोई चट ना कर सके। प्रॉपर्टी की कोई भी डील करने से पहले पूरा रिसर्च वर्क होना चाहिए। हर कागजात को सावधानी से चेक करने के बाद ही डील पर आगे बढ़ना चाहिए। हालांकि कई बार हमें मालूम नहीं होता कि सही और सटीक जानकारी कहा से मिलेगी। इसमें bhaskarproperty.com आपकी मदद कर सकता  है। 

जानिए भास्कर प्रॉपर्टी के बारे में:
भास्कर प्रॉपर्टी ऑनलाइन रियल एस्टेट स्पेस में तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी हैं, जो आपके सपनों के घर की तलाश को आसान बनाती है। एक बेहतर अनुभव देने और आपको फर्जी लिस्टिंग और अंतहीन साइट विजिट से मुक्त कराने के मकसद से ही इस प्लेटफॉर्म को डेवलप किया गया है। हमारी बेहतरीन टीम की रिसर्च और मेहनत से हमने कई सारे प्रॉपर्टी से जुड़े रिकॉर्ड को इकट्ठा किया है। आपकी सुविधाओं को ध्यान में रखकर बनाए गए इस प्लेटफॉर्म से आपके समय की भी बचत होगी। यहां आपको सभी रेंज की प्रॉपर्टी लिस्टिंग मिलेगी, खास तौर पर जबलपुर की प्रॉपर्टीज से जुड़ी लिस्टिंग्स। ऐसे में अगर आप जबलपुर में प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं और सही और सटीक जानकारी चाहते हैं तो भास्कर प्रॉपर्टी की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

ध्यान रखें की प्रॉपर्टी RERA अप्रूव्ड हो 
कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि वो भारतीय रियल एस्टेट इंडस्ट्री के रेगुलेटर RERA से अप्रूव्ड हो। रियल एस्टेट रेगुलेशन एंड डेवेलपमेंट एक्ट, 2016 (RERA) को भारतीय संसद ने पास किया था। RERA का मकसद प्रॉपर्टी खरीदारों के हितों की रक्षा करना और रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देना है। राज्य सभा ने RERA को 10 मार्च और लोकसभा ने 15 मार्च, 2016 को किया था। 1 मई, 2016 को यह लागू हो गया। 92 में से 59 सेक्शंस 1 मई, 2016 और बाकी 1 मई, 2017 को अस्तित्व में आए। 6 महीने के भीतर केंद्र व राज्य सरकारों को अपने नियमों को केंद्रीय कानून के तहत नोटिफाई करना था।