दैनिक भास्कर हिंदी: राऊत बोले - मोदी तो दिलदार हैं, महाराष्ट्र को भी 15 सौ करोड़ रुपए की मदद मिलेगी

May 20th, 2021

डिजिटल डेस्क, मुंबई। प्रदेश में सत्ताधारी शिवसेना ने विश्वास जताया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुजरात की तरह तूफानी चक्रवात ताऊ ते से प्रभावित महाराष्ट्र को आर्थिक मदद करेंगे। जबकि राकांपा ने प्रधानमंत्री पर मदद में भेदभाव और सौतेले व्यवहार का आरोप लगाया है। गुरुवार को शिवसेना सांसद संजय राऊत ने कहा कि प्रधानमंत्री बहुत ही दिलदार किस्म के नेता हैं। हमें विश्वास है कि केंद्र सरकार जल्द ही महाराष्ट्र को 1500 करोड़ रुपए और गोवा को 500 करोड़ रुपए मदद करेगी। राऊत ने कहा कि मोदी ने चक्रवात से प्रभावित गुजरात को एक हजार करोड़ रुपए की मदद की है, तो इससे किसी प्रदेश को दुखी होने की जरूरत नहीं है। राऊत ने कहा कि प्रधानमंत्री को पूरी जानकारी है कि महाराष्ट्र में चक्रवात से कितना नुकसान हुआ है। विधानसभा में विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस चक्रवात से प्रभावित कोंकण के दौरे पर हैं। फडणवीस भी प्रधानमंत्री को बताएंगे कि महाराष्ट्र को कम से कम 1500 करोड़ रुपए की जरूरत है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे भी आपदा प्रभावित कोंकण के दौरे पर जाएंगे। इसके बाद सरकार भी केंद्र सरकार को मदद के लिए प्रस्ताव भेजेगी। राऊत ने कहा कि गुजरात के साथ ही महाराष्ट्र में भी बड़ा नुकसान हुआ है। इसलिए हमें विश्वास है कि महाराष्ट्र को गुजरात से अधिक मदद मिलेगी। 

जबकि प्रदेश राकांपा के मुख्य प्रवक्ता महेश तपासे ने कहा कि प्रधानमंत्री ने गुजरात को एक हजार करोड़ रुपए की मदद देने का फैसला किया है तो महाराष्ट्र के साथ सौतेला व्यवहार क्यों किया जा रहा है? तपासे ने पूछा कि प्रधानमंत्री को महाराष्ट्र मंल हुआ नुकसान नजर नहीं आया क्या? उन्होंने कहा कि  प्रधानमंत्री से राज्य-राज्य के बीच भेदभाव करने की अपेक्षा नहीं थी। शायद जहां पर भाजपा की सरकार है वहीं पर मदद करने की उनकी भूमिका होगी।  

मदद पर हो रही जानबूझकर राजनीति - फडणवीस

सत्ताधारी दलों के आरोपों पर विधानसभा में विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस ने जवाब दिया है। फडणवीस ने कहा कि केंद्र सरकार की ओर से महाराष्ट्र को भी मदद उपलब्ध कराई जाएगी। फडणवीस ने कहा कि केंद्र सरकार के एनडीआरएफ से राज्य सरकार के एसडीआरएफ को मदद मिली हुई है। सरकार इस राशि का उपयोग आपदा प्रभावितों को मदद करने के लिए कर सकती है। इसके बाद केंद्र सरकार वह मदद राशि उपलब्ध करा देगी। यह सत्ताधारी दलों को मालूम है इसके बावजूद मदद को लेकर जानबूझकर राजनीति की जा रही है। फडणवीस ने कहा कि केंद्र सरकार ने प्रेस विज्ञप्ति में स्पष्ट किया है कि चक्रवात से प्रभावित सभी राज्यों को मदद की जाएगी। इसलिए गुजरात को मदद की घोषणा होने के बाद महाराष्ट्र सरकार को छोड़कर किसी दूसरी राज्यों की सरकारों ने सवाल नहीं उठाए हैं। 

खबरें और भी हैं...