दैनिक भास्कर हिंदी: मानसून की पहली जोरदार बारिश से सड़कें लबालब, विदर्भ में जमकर बरसे मेघ

July 8th, 2021

डिजिटल डेस्क, नागपुर। गुरुवार को इस मानसून की पहली जोरदार बारिश हुई। सुबह से शाम तक झड़ी लगी रही। पूरा शहर पानी-पानी हो गया। एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड समेत दर्जनों इलाकों में पानी घुसा। कई इलाके तो पूरी तरह जलमग्न हो गए। परिसर व सड़कों पर पानी ही पानी नजर आ रहा था। कई इलाकों में मिनी तालाब सदृश स्थिति बन गई थी। मौसम विभाग ने 12 जुलाई तक बारिश होने की चेतावनी दी है। नदी-नाले व निचले इलाके में रहनेवाले लोगों को सतर्क रहने को कहा गया है। नागपुर एयरपोर्ट पर 99.4 एमएम बारिश दर्ज की गई। 24 घंटे में अधिकतम तापमान में 12.4 डिग्री की गिरावट आई।

इस साल की रिकार्ड बारिश, बरतें सावधानी

गुरुवार को हुई बारिश इस साल की रिकार्ड बारिश है। 99.4 एमएम बारिश दर्ज की गई। मौसम विभाग के अनुसार, बारिश ने पिछला रिकार्ड नहीं तोड़ा, लेकिन इस साल यह सर्वाधिक बारिश है। पश्चिमी हवा चल रही है। आेड़िशा व पश्चिम बंगाल में साइक्लोनिक सर्कुलेशन बना होने से बारिश हो रही है। 12 जुलाई तक नागपुर समेत विदर्भ में बारिश होगी। इस दौरान बिजली गिरने का भी खतरा है। बारिश के दौरान पेड़ के नीचे खड़ा न रहें। नदी-नाले के पास रहने वाले सतर्क रहें। जिन पुलों से बारिश का पानी बह रहा हो, उसे पार न करें।

अधिकतम व न्यूनतम तापमान एकसमान

अधिकतम व न्यूनतम तापमान में सामान्यत: 10 से 20 डिग्री का अंतर होता है, लेकिन गुरुवार को दिन भर हुई बारिश से अधिकतम तापमान में जबर्दस्त गिरावट आई। अधिकतम तापमान 25.4 डिग्री व न्यूनतम तापमान 24.5 डिग्री रहा।

अमरावती में झमाझम बारिश 

अमरावती जिले की तिवसा तहसील के वर्हा गांव में आंधी के साथ हुई बारिश में गांव के करीब 41 कच्चे मकानों की छतें उड़ गईं। इससे परिवार खुले आसमान के नीचे आ गए हैं। घरों में रखा गया अनाज भी पानी में भीग गया। घटना की जानकारी मिलते ही तहसीलदार वैभव फरतारे ने प्राकृतिक आपदा प्रबंधन विभाग अंतर्गत मंडल अधिकारी व पटवारी को गांव में हुए नुकसान का पंचनामा करने के आदेश दिए।  

चंद्रपुर में रिमझिम बारिश, 21 पशुओं की मौत

चंद्रपुर में देर रात से शुरू हुई। गड़चांदूर में बुधवार शाम बिजली गिरने के कारण अमलनाला परिसर में 21 पशुओं की मौत हो गई । बता दें कि  जिले के लगभग सभी इलाकों में बुधवार की देर रात एवं गुरुवार दिन भर रिमझिम बरसत रहीं। 

गड़चिरोली में हुई बारिश, घरों में घुसा पानी

गड़चिरोली जिले में बुधवार रात से गुरुवार की सुबह तक हुई बारिश में सड़कों पर पानी जमा हो गया। जिससे कुछ समय के लिए यातायात प्रभावित हुआ।  बारिश से शहर के निचले इलाकों समेत आशीर्वाद नगर वार्ड के घरों में पानी घुस गया। वहीं देसाईगंज तहसील में सर्वाधिक 120 मिमी बारिश दर्ज की गई। 

वर्धा में बारिश

वर्धा जिले में बारिश ने जोरदार दस्तक दी है। बारिश के कारण नदी-नाले उफान पर हैं। जिससे जनजीवन प्रभावित हो गया। हिंगणघाट तहसील के मांडगांव में पुल से पानी बहने लगा, जिससे मुख्य मार्ग का संपर्क टूट गया

झमाझम बारिश से किसान खुश

गोंदिया और भंडारा में जोरदार बारिश शुरू हुई, जो दिनभर चलती रही। किसानों ने काफी राहत महसूस की है। गोंदिया में बारिश के कारण अनेक इलाकों में जलभराव की समस्या निर्माण हुई थी। भंडारा के पारड़ी में गाज गिरने से दो मवेशियों की मौत हो गई

खबरें और भी हैं...