सतना: रीवा से बाइक चोरी कर रामपुर, कटनी, सागर, रायसेन और इंदौर में की लूट

February 8th, 2022

 डिजिटल डेस्क  सतना। रामपुर बाघेलान थाना क्षेत्र के सगौनी बाइपास में युवक की बेदम पिटाई कर पर्स और मोबाइल लूटने वाले 3 बदमाश कटनी, सागर, रायसेन और इंदौर में वारदात करने के बाद भोपाल में मेकअप आर्टिस्ट का पर्स छीनने के कुछ घंटे बाद ही पकड़ लिए गए। गौरतलब है कि 31 जनवरी को रात करीब डेढ़ बजे बाइक सवार युवक घर जा रहा था, तब सगौनी बाइपास में अपाचि बाइक पर आए 4 बदमाशों ने रास्ता रोककर उसकी बेदम पिटाई कर दी और पर्स व मोबाइल छीनकर भाग निकले। पर्स में 8 सौ रुपए नकदी के साथ आधार कार्ड भी था। बुरी तरह घायल युवक को रात में पुलिस ने संजय गांधी अस्पताल भेज दिया था, जहां 4 दिन बाद होश आने पर घटनाक्रम पता चला, मगर आरोपियों का कोई सुराग नहीं मिला। 
और तभी राजधानी से आई खबर —-
रामपुर पुलिस बदमाशों की खोज में हाथ-पांव मार ही रही थी कि 5 फरवरी को भोपाल के हबीबगंज थाने से खबर आई कि 4 तारीख को दोपहर करीब डेढ़ बजे बिट्टल मार्केट की तरफ पैदल जा रही मेकअप आर्टिस्ट तंजीम मंसूरी निवासी चार इमली गल्र्स हास्टल्स का पर्स लाल रंग की बाइक पर पीछे से आए 4 बदमाश छीनकर भाग निकले, जिसकी शिकायत पीडि़ता ने तुरंत थाने में की तो 
पुलिस ने सीसीटीवी कैमरों के फुटेज खंगाले और एक आरोपी की पहचान कर 4 घंटे के अंदर ही घेराबंदी कर आरोपी अमन पाठक उर्फ साहिल पुत्र अरूण पाठक 22 वर्ष, निवासी खापा, जिला रीवा, रवि पुत्र धर्मेन्द्र मिश्रा 19 वर्ष, निवासी रीवा और सौरभ पाठक पुत्र उमेश प्रसाद 22 वर्ष, निवासी लोही जिला रीवा, को पकड़ लिया गया, जबकि उनका चौथा साथी शुभम पुत्र प्रमोद उपाध्याय, निवासी रीवा, हाल अर्जुन नगर भोपाल भाग निकला। 
स्कूल-कॉलेज के छात्र हैं आरोपी, 1 ने दी है कान्सटेबल की परीक्षा —-
अमन बीकॉम की पढ़ाई कर रहा है और इसी साल पुलिस कान्सटेबल की परीक्षा भी दे चुका है। वहीं रवि 12वीं और सौरभ आईटीआई का छात्र है। इन बदमाशों ने सबसे पहले 31 जनवरी को रीवा से बाइक चुराई और फिर इसी रात रामपुर के सगौनी में युवक को बेहोश होने तक पीटने के बाद लूटपाट कर आगे बढ़ते हुए कटनी में एक व्यक्ति से लूट की, फिर सागर में युवक-युवती के फोन छीन लिए, तो इंदौर में युवक और रायसेन में युवती के फोन छीनते हुए भोपाल पहुंच गए। तीन दिन में चोरी और लूट की 6 वारदात करने के बाद भोपाल में 7वीं घटना करते ही पकड़ लिए गए। आरोपियों की तलाशी लेने पर फोन और पीडि़तों के पहचान पत्र बरामद हुए तो पुलिस ने कड़ाई से पूछताछ की, जिस पर तीनों ने जुर्म स्वीकार कर लिया। भोपाल पुलिस से सूचना मिलने पर एसपी धर्मवीर सिंह ने बताया कि जिला न्यायालय से प्रोडक्शन वारंट हासिल कर एक टीम को भोपाल भेजा जाएगा, जो आरोपियों को रिमांड में लेकर सतना लाएगी।