दैनिक भास्कर हिंदी: साहित्य अकादेमी युवा पुरस्कार : मराठी कविता के लिए सुशील कुमार शिंदे चयनित 

June 14th, 2019

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। साहित्य अकादेमी ने शुक्रवार को अपने युवा पुरस्कारों की घोषणा कर दी है। इसके तहत कविता की 11 पुस्तकों, कहानी की 6 पुस्तकों, 5 उपन्यासों और एक साहित्यिक आलोचना की कृति को साहित्य अकादेमी युवा पुरस्कार-2019 के लिए चुना गया है। पुरस्कार विजेता को पुरस्कारस्वरूप एक उत्कीर्ण ताम्र फलक तथा 50 हजार रूपये की राशि का चेक एक विशेष कार्यक्रम में प्रदान किए जाएंगे।  

हिंदी कविता के लिए अनुज लुगुन चुने गए 

साहित्य अकादेमी के सचिव डॉ के श्रीनिवासराव ने बताया कि कविता विधा में जिन रचनाकारों को इस पुरस्कार के लिए चुना गया है उनमें सुशील कुमार शिंदे (मराठी), अनुज लुगुन (हिंदी), रूजब मुशाहारी (बोडो), सागर नाजिर (कश्मीरी), अनुजा अकथुट्टु (मलयालम), जितेन ओइनाम्बा (मणिपुरी), कनर बिराहा (नेपाल), युवराज भट्टराई (संस्कृत), गुहिराम किस्कू (संथाली), किरण परयाणी अनमोल (सिंधी) और सबरीनाथन (तमिल) का नाम शुमार है। सुशील कुमार शिंदे को उनकी मराठी कविता शहर आत्महत्या करायचा महंताय के लिए चुना गया है।

कोंकणी कहानीकार हेमंत अइया भी होंगे पुरस्कृत  

कहानी विधा में जिन कहानीकारों को इस पुरस्कार के चयन किया गया है उनमें हेमंत अइया (कोंकणी), संजीब पॉल डेका (असमिया), सुनील कुमार (डोंगरी), तनुज सोलंकी (अंग्रेजी), अजय सोनी (गुजराती) और कीर्ति परिहारा (राजस्थानी) का नाम है। उपन्यास विधा में पुरस्कृत कलाकार हैं मोमिता (बांग्ला), फकीर (कन्नड़), यदविंदर सिंह संधु (पंजाबी), गड्डम मोहन राव (तेलुगू) और सलाम अब्दुल समद (उर्दू)। साहित्यिक आलोचना के लिए शिशिरा बेहेरा (ओडिया) का पुरस्कार के लिए चुना गया है। पुरस्कार विजेताओं का चयन साहित्य अकादेमी के अध्यक्ष डॉ चंद्रशेखर कंबार की अध्यक्षता वाली कार्यकारी मंडल ने किया है। केन्द्रीय पर्यटन व संस्कृति मंत्री प्रह्लाद पटेल ने पुरस्कार विजेताओं को बधाई दी है। 


 

खबरें और भी हैं...